शिवराज सरकार का बड़ा फैसला…

अब इन जिलों में हर रविवार को रहेगा लॉकडाउन !

भोपाल। मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए शिवराज सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए मंत्रिपरिषद की बैठक में बैतूल, छिंदवाड़ा , रतलाम और खरगोन में भी हर रविवार को लॉकडाउन लगाए जाने का निर्णय लिया गया है. इससे पहले राजधानी भोपाल, इंदौर और जबलपुर में भी हर रविवार को लॉकडाउन लगाए जाने का फैसला लिया गया था. मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि कोरोना के मामलों को कंट्रोल करने के लिए बैतूल, छिंदवाड़ा , रतलाम और खरगोन में हर रविवार को टोटल लॉकडाउन रहेगा. मध्य प्रदेश के चार और जिलों में रविवार को लॉकडाउन लगाए जाने का होने के बाद अब प्रदेश के सात जिलों में रविवार को लॉकडाउन रहेगा. 

दरअसल, भोपाल, इंदौर, जबलपुर की तरह बैतूल, छिंदवाड़ा, रतलाम और खरगोन में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इसके अलावा आने वाले त्यौहारों आने वाले हैं यह निर्णय लिया गया है कि त्यौहारों में किसी भी तरीके की सार्वजनिक भीड़ भाड़ पर प्रतिबंध रहेगा. अब राज्य में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या 10,000 के पार हो चली गई है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना के ताजा हालात को देखते हुए और सख्ती करने के संकेत दिए हैं. उन्होंने कहा, ''जिस तरह कोरोना केस लगातार बढ़ रहे हैं, इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है. 

संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सख्त कदम उठाने पड़ेंगे. मैंने बुधवार सुबह एक समीक्षा बैठक की है और देर शाम उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है. इसमें कई फैसले लिए जाएंगे. कोरोना को कंट्रोल करने के लिए सभी राजनीतिक दलों व धर्मगुरुओं को पत्र लिखकर सहयोग करने की अपील करूंगा.'' इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत में न्यू कोरोना वेरिएंट्स के 771 मामलों की पुष्टि की है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने 10 नेशनल लैब्स का एक ग्रुप बनाया था, जो कोरोना वायरस के अलग-अलग वेरिएंट्स यानी प्रकार की जीनोम सिक्वेंसिंग कर रहा है. भारत में कोरोना वायरस के 10 हजार 787 सैंपल टेस्ट करने पर 771 अलग-अलग वेरिएंट पकड़ में आए हैं. 

इनमें 736 सैंपल यूके यानी ब्रिटेन के कोरोना वेरिएंट वाले हैं. वहीं 34 सैंपल साउथ अफ्रीका और 1 सैंपल ब्राजील वाले कोरोना वेरिएंट का मिला है. कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण तेज गति से फैल रहा है. इसे ध्यान में रखते हुए केंद्र ने राज्य सरकारों को कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने का निर्देश जारी किया है. गृह मंत्रालय ने कहा है कि सभी राज्य टेस्ट, ट्रैक व ट्रीट प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू करें. साथ ही त्योहारों के दौरान भी सख्ती करने का निर्देश केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को दिए हैं. फिलहाल माइक्रो कंटेटमेंट बनाए जा रहे हैं, यानी जिस घर में संक्रमित पाया जाता है उसको कंटेनमेंट घोषित किया जा रहा है. लेकिन जिस तरह कोरोना के केस बढ़ रहे हैं, सरकार फिर से कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी कर रही है.