इंदौर में होलिका दहन पर लगी रोक…

भोपाल में रविवार रात की बजाय सोमवार सुबह जलेगी होली

प्रदेश में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। इसकेे बाद और सख्ती की तैयारी है। इंदौर में शाम को हुई क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में शुक्रवार से बाजार रोजाना रात 10 के बजाय 9 बजे बंद करने का निर्णय लिया गया है। सार्वजनिक रूप से होलिका दहन भी नहीं किया जा सकेगा। धर्मस्थल भी आगामी आदेश तक बंद रहेंगे। संडे लॉकडाउन के साथ होली के दिन आवाजाही पर भी प्रतिबंध रहेगा। इधर, नाइट कर्फ्यू को देखते हुए भोपाल शहर में रविवार रात की बजाय सोमवार सुबह 6.15 बजे हाेलिका दहन होगा। यह निर्णय भोपाल की हिंदू उत्सव समिति ने लिया है। ऐसा पहली बार होगा, जब भोपाल में होलिका दहन रात की जगह सुबह किया जाएगा। भोपाल क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी ने त्योहारों पर कोरोना गाइडलाइन को लेकर चर्चा की। इसमें होली, शब ए बारात आदि पर मंत्रणा की। रात 10 के बजाय बाजार को 8 बजे से बंद कराने के मुद्दे पर चर्चा हुई, लेकिन अंतिम फैसला नहीं हो सका। 

इसे लेकर 26 मार्च को पुन: चर्चा की जाएगी। इसकी पुष्टि कलेक्टर भोपाल ने की है। छिंदवाड़ा में शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। हालांकि कलेक्टर ने पहले कहा था कि रविवार के साथ होली के दिन सोमवार को भी बाजार बंद रहेंगे। लोग घर में ही रहें। मंगलवार सुबह ही सबकुछ सामान्य होगा। इससे लगातार दो दिन तक 56 घंटे के सख्त लॉकडाउन होने की स्थिति बनती। कुछ देर बाद कलेक्टर इसे साफ करते हुए कहा कि अमूमन होली पर बाजार बंद ही रहते हैं। हमारी तरफ सोमवार को लॉकडाउन नहीं रहेगा लेकिन लोगों से अपील की है कि वे घर में ही होली मनाएं। उज्जैन में भी कलेक्टर ने संक्रमित बढ़ने पर एक से दो दिन में लॉकडाउन पर फैसला करने की बात कही है। क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक गुरुवार शाम हुई। बैठक में आए प्रस्तावों के बाद तय किया गया कि इंदौर के बाजार 26 मार्च से 9 बजे से बंद होंगे। हालांकि भोपाल से आए आदेश में रात 8 बजे ही बाजार बंद करने के लिए कहा गया था, लेकिन जनप्रतिनिधियों ने बाजारों को 9 बजे तक खुला रखने की मांग की। 

करीब 1 घंटे तक चली बैठक में तय हुआ, 28 मार्च की रात होने वाला होलिका दहन नहीं होगा। इसी रात, मुस्लिम समाज का शब ए बरात भी घरों में ही मनाया जाएगा। दूसरे दिन धुलेंडी वाले दिन भी सख्ती बरती जाएगी। लोगों को लॉक डाउन की तरह ही कहीं भी आने-जाने नहीं दिया जाएगा। बैठक में मंत्री तुलसी सिलावट, सांसद शंकर लालवानी, विधायक रमेश मेंदोला, आकाश विजयवर्गीय, महेंद्र हार्डिया, मालिनी गौड़ और मधु वर्मा, मनोज पटेल,राजेश सोनकर, गौरव रणदिवे सहित कलेक्टर मनीष सिंह और डीआईजी मनीष कपूरिया शामिल थे। बता दें कि बीते 24 घंटे में 584 नए संक्रमित मिले हैं। 2 लोगों ने कोरोना से दम तोड़ दिया है। प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक है। पिछले 24 घंटे में 1885 नए केस मिले हैं। यह पिछले 6 महीने में एक दिन का सबसे ज्यादा हैं। पिछले 24 घंटे में इंदौर में सबसे ज्यादा 584 नए केस मिले, जबकि भोपाल में 398 और जबलपुर में 109 संक्रमित मिले। 

इंदौर में 2,523 एक्टिव केस हैं। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में अब तक 2 लाख 82 हजार 174 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 2 लाख 67 हजार 242 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 1885 नए संक्रमित मिले, जबकि 919 मरीज ठीक हुए। सूत्रों का कहना है कि महाराष्ट्र में कोरोना का नया 'डबल म्यूटेंट' आने की संभावना है। यह नया वैरिएंट नागपुर से मध्य प्रदेश में पहुंच सकता है। हालांकि एक सप्ताह से महाराष्ट्र से सड़क मार्ग पर यात्री बसों का परिवहन बंद है, लेकिन निजी वाहनों के अलावा ट्रेन रूट से लोग आ-जा रहे हैं। ऐसे में सख्ती से चेकिंग की जा रही है। बता दें कि कोरोना के नए डबल म्यूटेंट नागपुर के कई काेरोना संक्रमितों में मिला है। प्रदेश के सभी नर्सिंग होम और निजी हॉस्पिटल को कोविड-19 के इलाज की निर्धारित दरों को काउंटर पर लगाना होगा। यह दरें 29 फरवरी 2020 को अस्पतालों की तरफ से सीएमएचओ को बताई गई दरों से 40 प्रतिशत से अधिक नहीं हो।