वो महिला  है, जो हर हाल में मुस्कुराती है…

8 मार्च यानी की ""अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस""  महिलाएं केवल इसी एक दिन नहीं वरन हर दिन,हर समय सम्मान की अधिकारी है.नारी कमजोर नहीं हैं बल्कि शक्ति का नाम है नारी. महिला - पुरुष एक दूसरे के प्रतिद्वंदी नहीं होते हैं और परस्पर सहयोग की भावना से बराबरी से आगे बढ़ सकते हैं,तभी सामाजिक ढांचा एवं राष्ट्र मजबूत  बनेगा.महिलाओं को भी समान अधिकार, समान अवसर और समान स्वतंत्रता का पूर्ण अधिकार है. निसंदेह इसमें किसी संदेह की गुंजाइश नहीं है. महिलाए  सिर्फ इतनी सी बात समझ जाए और अपनी प्रतिभा, दक्षता, क्षमता, अभिरुचि और रुझान को पहचान जाए तो नारी कामयाबी की मंजिल तय कर सकती हैं.  ईश्वर ने नारी को जिन गुणों से नवाजा हैं उन्हें निखारना है. स्वयं को प्रसन्न रखने के लिए काम करना है.आपको अपना परिवेश अपने आप प्रसन्न मिलेगा, दूसरे शब्दों में कहे तो हर काम को प्रसन्नता से करें अपनी पूर्ण क्षमता से कार्य करें। 

अपना जीवन मस्ती भरा रखें. जब जी मैं आए तब  मंद  मंद मुस्कुराते हुए चलें. मजबूत महिलाएं ही एक मजबूत समाज की नींव रख सकती हैं. अपनी निहित शक्तियों को पहचान कर सर्वांगीण व्यक्तित्व बनाना, अपने बच्चों को उच्च शिक्षा प्रदान कर उच्च जीवन स्तर बनाना, समाज परिवार में पहचान  बनाकर वसुदेव कुटुंबकम को साकार करना हैं ,महिलाओं का यही लक्ष्य होना चाहिए..! विख्यात छायावादी आधुनिक मीरा के रूप में जानी पहचानी कवित्री श्री महादेवी वर्मा कुछ पंक्तियां आज चरितार्थ हो रही है.साहित्य में जिस स्त्री विमर्श की चर्चा जोरों पर है। उसकी पृष्ठभूमि महादेवी वर्मा के लेखन में बहुत पहले तैयार कर दी थी... "मधुर मधुर मेरे दीपक जल". महादेवी जी ने महिला जीवन की पीड़ा को समझ कर महिला सशक्तिकरण श्रृंखला की कड़िया नामक पुस्तक की रचना की थी. 

इस पुस्तक में वह लिखती है कि, "भारतीय नारी जिस दिन अपने संपूर्ण प्राण आवेग से जाग सकेगी, उस दिन नारी की गति को रोकना किसी के लिए संभव नहीं है" पुनः इन्हीं शुभकामनाओं के साथ अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की हार्दिक बधाई व ढेरो शुभकामनाएं. महिलाएं अपना उद्देश्य महान रखें चाहे इसके लिए कांटो भरी डगर पर ही क्यों ना चलना पड़े. मुमकिन नहीं हर वक्त मेहरबा रहे जिंदगी, कुछ लम्हे जिंदगी जीने का तजुर्बा भी सिखाते हैं। अंतरास्ट्रीय महिला दिवस की सभी माताओं, बहनों, भाभीयों को हार्दिक-हार्दिक शुभकामनाएं बधाई।