15 लोग घायल, भारी पुलिस फोर्स मौजूद…

बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं में हुई झड़प

पश्चिम बंगाल में एक अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान होना है. इस बीच पूर्वी मिदनापुर में रविवार को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और बीजेपी कार्यकर्ताओं में झड़प हो गई. पूर्वी मिदनापुर के कांथी में हुई इस झड़प में कई लोग घायल हो गए. बवाल की आशंका के मद्देनजर इलाके में भारी पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है. बता दें कि रविवार को पूर्वी मिदनापुर के कांथी में टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं में झड़प में करीब 15 लोग घायल हो गए. यह झड़प कांथी कस्बे के नहर बैंक इलाके में हुई. 

घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. पूरे इलाके में भारी पुलिस बल की मौजूदगी है. गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों के लिए पहले फेज की वोटिंग शनिवार को हुई और अब 1 अप्रैल को दूसरे फेज की वोटिंग होगी. इस बीच चुनाव आयोग ने भारी मात्रा में बम बरामद किए. चुनाव आयोग की शिकायत पर नरेंद्रपुर पुलिस ने एक घर में छापा मारा, जहां से 56 जिंदा बम बरामद हुए.  बाद में इन सभी बमों को डिस्पोज किया गया. मालूम हो कि बीते दिन (27 मार्च) बांकुरा के जॉयपुर टीएमसी दफ्तर में बम धमाका हुआ था. धमाके का आरोप टीएमसी ने लेफ्ट-कांग्रेस गठबंधन पर लगाया, 

जबकि बीजेपी का कहना है कि टीएमसी दफ्तर के अंदर बम बनाते समय यह घटना हुई. इस घटना में तीन लोग घायल हो गए, जिन्हें हुगली के आरामबाग अस्पताल ले जाया गया. बम धमाके की घटना के बाद टीएमसी और आईएसएफ कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई. इस झड़प में चार आईएसएफ कार्यकर्ता भी घायल हो गए. चारों को बिशुनपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया.  हालांकि, बाद में केंद्रीय बलों ने मौके पर पहुंचकर हालात को काबू में कर लिया. सूत्रों के मुताबिक, धमाका ज्यादा शक्तिशाली नहीं था.