सिपाही की मौत, दारोगा जख्मी…

छापा मारने गई पुलिस को शराब माफियाओं ने बंधक बनाकर पीटा

उत्तर प्रदेश के कासगंज में शराब माफियाओं पर नकेल कसने पहुंची पुलिस को बंधक बनाकर पीटा गया है. इसमें एक सिपाही की मौत हो गई और दारोगा बुरी तरह जख्मी हो गए. मामला सिढ़पुरा थाना क्षेत्र के नगला धीमर गांव का है. घटना की सूचना मिलते ही भारी संख्या में कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची है. शराब माफियाओं के हमले में सिढ़पुरा थाना में तैनात दारोगा गंभीर रूप से घायल हुए हैं. सिपाही देवेंद्र मौत हुई है. 

कासगंज के अपर पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रकाश वर्मा ने सिपाही देवेंद्र की हत्या होने और दरोगा अशोक के गंभीर रूप से घायल होने की पुष्टि की है. वर्मा भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंचे हैं. कासगंज की घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है. उन्होंने घटना में शामिल तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. गुनाहगारों पर एनएसए के तहत कार्रवाई के भी निर्देश दिए हैं. 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कासगंज में शहीद पुलिसकर्मी के परिवार के प्रति संवेदना जताते हुए 50 लाख की आर्थिक सहायता और आश्रित को सरकारी नौकरी देने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक, योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति पर कार्य कर रही है. कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार का समझौता न करते हुए सम्बन्धित दोषियों के विरुद्ध अविलम्ब व सख्त कार्रवाई की जाए.