आशिक ने सोते समय कुल्हाड़ी से काट डाला…

प्रेम प्रसंग में रोड़ा बन रहे पिता को नाबालिग बेटी ने मरवाया

उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले में एक हफ्ता पहले हुए एक हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। अधेड़ तबरेज अहमद की हत्या उसकी नाबालिग बेटी ने अपने प्रेमी से कराई थी। नाबालिग बेटी अपने प्रेमी के साथ रहना चाहती थी, लेकिन उसके पिता को यह रिश्ता मंजूर नहीं था। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पूरा मामला सराय अकिल थाना क्षेत्र के सिहोरवा गांव का है। यहां रहने वाले तबरेज अहमद किसान थे। कुछ दिन से वे अपने पुराने मकान की मरम्मत करा रहे थे। इसके चलते वे अपने पड़ोसी कुट्टू के घर रात को सो जाते थे। 28 दिसंबर 2020 की रात करीब 12 बजे एक अज्ञात शख्स ने उनकी कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी थी। 

तबरेज की हत्या का खुलासा करने के लिए लोकल पुलिस के अलावा SOG को भी लगाया गया था। पुलिस ने जब इस मामले की जांच शुरू की तो बेटी के बयान पर शक हुआ। इसके बाद परिजनों को भी सर्विलांस पर रखा गया। एक हफ्ते की जांच के बाद पुलिस ने हत्याकांड की गुत्थी सुलझाते हुए मृतक की बेटी व उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया गया। पुलिस के अनुसार, पिता नाबालिग बेटी के प्यार में बाधा बन रहा था। यह बात लड़की को पसंद नहीं थी। इसी बात से नाराज होकर बेटी ने अपने प्रेमी के जरिए पिता की हत्या करवा दी। अपर पुलिस अधीक्षक समर बहादुर ने बताया कि आरोपी रेहान मृतक तबरेज की 12वीं में पढ़ने वाली बेटी से प्यार करता था। 

इस बात की भनक जब तबरेज को हुई तो उन्होंने ऐतराज जताया। तबरेज ने बेटी की पढ़ाई भी बंद करा दी। उसे घर रहने के लिए कहा। इसके बाद भी दोनों चोरी छिपे एक दूसरे से मिलते थे। घटना वाली शाम तबरेज को बेटी की करतूत के बारे में पता चला तो उन्होंने उसकी पिटाई कर दी थी। इसी के बाद दोनों ने तबरेज को रास्ते से हटाने की योजना बनाई थी। 28 दिसंबर की रात रेहान प्रेमिका के घर पहुंचा तो उसे पता चला कि वह पड़ोसी के घर सो रहा है। रेहान ने पड़ोसी के घर पहुंचकर चारपाई पर सो रहे तबरेज की गर्दन पर कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद वह अपने गांव पुरखास भाग गया था।