पुलिस ने सहारा इंडिया चिटफंड कंपनी से…

एंटी माफिया अभियान के तहत चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई जारी 

ग्वालियर। एंटी माफिया अभियान के तहत ग्वालियर संभाग में चिटफंड कंपनियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। साथ ही चिटफंड कंपनियों से निवेशकों के धन की वापसी भी प्रशासन द्वारा कराई जा रही है। इस कड़ी में संभाग के अशोकनगर जिले में जिला प्रशासन एवं पुलिस ने सहारा इंडिया चिटफंड कंपनी से 167 निवेशकों को लगभग एक करोड़ 58 लाख रूपए की राशि वापस दिलाई है। अशोकनगर जिले के कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी अभय वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक रघुवंश सिंह भदौरिया के निर्देशन में अशोकनगर जिले में चिटफंड कंपनियों से निवेशकों की राशि वापस दिलाने के लिये विशेष मुहिम चलाई जा रही है। 

इस कड़ी में कलेक्टर श्री वर्मा ने विभिन्न चिटफंड कंपनियों मसलन सहारा क्रेडिड को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमि.लखनऊ उत्तरप्रदेश, स्टार मल्टीपरपज को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमि.हैदराबाद एवं सहारायन युनिवर्सल मल्टीपरपज सोसायटी लिमिटेड भोपाल का पंजीयन निरस्त करने तथा निवेशकों की राशि वापस कराने के लिये सेंट्रल रजिस्ट्रार ऑफ सोसायटीज भारत सरकार नई दिल्ली से भी आग्रह किया है। साथ ही कलेक्टर द्वारा जांच प्रतिवेदन भी भेजा गया है। प्रतिवेदन में जिक्र किया गया है कि आम जनता के साथ धोखाधड़ी कर उनकी राशि कम समय में दो गुनी करने का प्रलोभन देकर काफी बडी मात्रा में राशि संग्रहित की गई है।

निवेशकों की राशि परिपक्व होने के बावजूद भी उन्हें किसी भी प्रकार की राशि का भुगतान नही किया जा रहा है। चिटफंड कंपनियों से संबंधित शिकायतों की जांच उप पंजीयक सहकारी संस्थायें अशोकनगर से कराई गई थी। जाँच में संबंधित संस्थाओं के द्वारा निवेशकों के साथ छल-कपट तथा धोखाधड़ी की बात सामने आई है। तथ्यों के आधार पर नियमानुसार पंजीयन निरस्त किये जाने तथा इन चिटफंड कंपनियों से राशि वसूल कर निवेशकों की परिपक्वता राशि का शीघ्र भुगतान करने की कार्रवाई की जा रही है।