निकल सकता है बीच का रास्ता !

किसानों के साथ सरकार की पांचवे दौर की वार्ता आज

नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों और सरकार के बीच पांचवें दौर की वार्ता आज होगी. विज्ञान भवन में दोपहर 2 बजे होने वाली इस वार्ता में विभिन्न किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और सरकार के मंत्री भाग लेंगे. वहीं वार्ता से पहले किसानों ने सिंघु बॉर्डर पर बैठक करके तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की. किसानों ने सिंघु बॉर्डर पर हुई बैठक में किसान संगठनों ने प्रधानमंत्री मोदी और कुछ उद्योगपतियों के पुतले फूंकने का भी ऐलान किया. किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद करने का ऐलान भी किया किया. उधर दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन से आम लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इस आंदोलन की वजह से दिल्ली बॉर्डर की कई सड़कें बंद है. जिसके चलते दिल्ली के लोगों को अपने काम पर आने जाने में दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं. इसे देखते हुए शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई. 

याचिकाकर्ता ने शाहीनबाग मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए मांग की कि आंदोलन के नाम पर पब्लिक प्लेस को घेरा नहीं जा सकता है. प्रदर्शन तयशुदा जगह पर होना चाहिए. ऐसे में दिल्ली की बंद सड़कों को जल्द खाली करवाया जाए. इसी बीच दिल्ली में ट्रैफिक को लेकर अलर्ट जारी किया गया है. दिल्ली के लोगों को ये कहा गया है कि किसान आंदोलन के चलते वो Outer Ring Road, GTK road, NH 44 का इस्तेमाल न करें. किसानों के आंदोलन के चलते चिल्ला बैराज के पास नोएडा-दिल्ली लिंक रोड पर यातायात बंद कर दिया गया है. लोगों को दिल्ली आने-जाने के लिए नोएडा लिंक रोड से बचने और DND का उपयोग करने की सलाह दी गई है.

जिसके चलते DND पर जाम लग रहा है. गाजीपुर की सीमा के रास्ते गाजियाबाद से दिल्ली आने वालों के लिए भी ये निर्देश जारी किए गए हैं कि वो यातायात के लिए NH24 का इस्तेमाल न करें. इस रास्ते से जाने वालों को भी दिल्ली आने के लिए DND का उपयोग करने की सलाह दी गई है. किसान आंदोलन के समर्थन में अब कई राज्यों में भी सरकार और विपक्ष धरना प्रदर्शन करने जा रहे हैं. पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने शुक्रवार को TMC की ओर से डेरेक ओ' ब्रायन को हरियाणा-दिल्ली सीमा पर विरोध कर रहे किसानों से मुलाकात करने भेजा. बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी इस कानून के खिलाफ आज गांधी मैदान में महात्मा गांधी की मूर्ति के सामने धरना देने जा रहे हैं.