एंटी माफिया अभियान के तहत प्रशासन की बड़ी कार्रवाई…

कलेक्टर ने मौके पर पहुँचकर पाँच फैक्ट्रियों पर की छापामार कार्रवाई

ग्वालियर। एंटी माफिया एवं मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के निर्देश पर गई खाद्य सुरक्षा विभाग की टीमों ने पाँच फैक्ट्रियों पर एक साथ छापामार कार्रवाई की। कलेक्टर श्री सिंह ने भी मौके पर पहुँचकर इस कार्रवाई का जायजा लिया। उन्होंने अखाद्य एवं अमानक पदार्थों की बिक्री कर लोगों के जीवन से खिलवाड़ कर रहे गिरवाई नाका स्थित मैसर्स हिमानी शिवानी कैटल फीड्स के संचालक के खिलाफ एनएसए (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) के तहत कार्रवाई प्रस्तावित करने के निर्देश गिरवाई थाना प्रभारी को दिए। कलेक्टर ने छापामार कार्रवाई को अंजाम देने वाली सभी टीमों के प्रभारियों को निर्देश दिए कि जिन-जिन फैक्ट्रियों में अनियमिततायें मिली हैं उनके खिलाफ खाद्य सुरक्षा अधिनियम सहित अन्य कानूनी प्रावधानों के तहत कठोर कार्रवाई की जाए। साथ ही नमूनों की जाँच राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला से कराएँ। 

बुधवार को कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के निर्देश पर गई टीमों ने गिरवाई नाका स्थित हिमानी शिवानी कैटल फीड्स (तिल फैक्ट्री) पर छापामार कार्रवाई की। इस फैक्ट्री में अखाद्य तेलों व पशु आहार के निर्माण संबंधी अनुमति है। मगर फैक्ट्री संचालक द्वारा मनुष्यों के लिये अखाद्य घोषित पदार्थों को बेचने की अनियमिततायें प्रारंभिक जाँच में सामने आई हैं। इस फैक्ट्री मालिक के खिलाफ राज्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज करने के साथ-साथ एनएसए की कार्रवाई भी की जा रही है। खाद्य सुरक्षा विभाग की एक अन्य टीम ने गिरवाई क्षेत्र में ही स्थित ओम साँई गृह उद्योग पर छापामार कार्रवाई की। इस फैक्ट्री में गोवा गुटखा के रैपर में बच्चों के पॉपकॉर्न व नमकीन इत्यादि सामग्री पैक कर बेचने के लिये रखी मिली। यह अनियमितता पाए जाने पर फैक्ट्री संचालक के खिलाफ खाफ सुरक्षा और मानक अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। साथ ही जाँच के लिये नमूने भी लिए गए हैं।

इसी तरह खाद्य विभाग के एक अन्य दल ने बाराघाटा औद्योगिक क्षेत्र में स्थित जीडीपी एग्रो एण्ड फूड प्रोडक्ट प्रा.लि. पर छापामार कार्रवाई की। इस फैक्ट्री से खाद्य विभाग की टीम ने सरसों, तिली, मेज, स्टार्च इत्यादि खाद्य पदार्थों के नमूने लिये। साथ ही लगभग 5 लाख रूपए कीमत की 4500 किलोग्राम से अधिक तिली एवं 300 किलोग्राम मेज स्टार्च जब्त किया है। बाराघाटा क्षेत्र में ही जोधपुर मिष्ठान भण्डार की फैक्ट्री पर भी खाद्य सुरक्षा की टीम द्वारा छापामार कार्रवाई की गई। इस फैक्ट्री से मावा रोल, काजू कतली, हल्दी पाउडर इत्यादि मिठाईयों के सेम्पल लिए। साथ ही खराब अवस्था में मिला लगभग 60 किलोग्राम नारियल पाउडर नष्ट कराया। खाद्य सुरक्षा विभाग की एक टीम ने हजीरा क्षेत्र में स्थित पशु आहार निर्माण करने वाली एक फैक्ट्री का औचक निरीक्षण किया। इस फैक्ट्री से भी खाद्य पदार्थों के नमूने लिए गए एवं खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई।