आज होगी अदालत में पेशी…

जमानत मिलते ही फिर सलाखों के पीछे गए कंप्यूटर बाबा

मध्यप्रदेश के विवादित कंप्यूटर बाबा को सोमवार को जमानत मिली थी, लेकिन एक दूसरे मामले में उन्हें फिर से सलाखों के पीछे जाना पड़ा है। दरअसल, इंदौर में स्थित आश्रम से हथियार मिलने के मामले में बाबा को सोमवार को एक दिन की पुलिस रिमांड में भेजा दिया गया। जिला अभियोजन अधिकारी ने बताया कि अदालत ने बाबा को एक आधिकारिक कार्य में बाधा पहुंचाने के एक अन्य मामले में जमानत दे दी थी। उन्हें मंगलवार को अदालत के सामने पेश किया जाएगा। मध्यप्रदेश के विवादित कंप्यूटर बाबा की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं।

इंदौर की सेंट्रल जेल में बंद बाबा के खिलाफ शहर की एरोड्रम थाना पुलिस ने भी एक मामला दर्ज किया है। एरोड्रम टीआई राहुल शर्मा ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि अंबिकापुर एक्सटेंशन निवासी राजेश खत्री ने उनसे शिकायत की थी कि बाबा उनके घर में तलवार लेकर घुसे थे और हत्या की धमकी दी थी। शिकायतकर्ता राजेश खत्री ने पुलिस को बताया कि नामदेव दास त्यागी उर्फ कंप्यूटर बाबा ने अंबिकापुर एक्सटेंश में जमीन को कब्जाकर आश्रम बना लिया है। 

इस आश्रम की आड़ में बाबा और उसके चेले अनैतिक गतिविधियां करते हैं। डेढ़ महीने पहले वह कंप्यूटर बाबा से मिला था। उसने बाबा को बताया कि आपके आश्रम में लोग चरस-गांजा पीते हैं, बाहरी महिलाओं और बच्चियों को लाते हैं और इसके अलावा कई अपराधी भी यहां संरक्षण के लिए ठहरते हैं। राजेश खत्री ने बताया कि ये सब बातें सुनने के बाद कंप्यूटर बाबा ने गाली गलौज करनी शुरू कर दी और हत्या कर आश्रम में गाड़ने की धमकी दे दी।राजेश ने बताया कि वो इस धमकी से डर गए और घबराकर घर वापस आ गए। 

घर वापस आने के बाद रात दस बजे बाबा और उनके साथी तलवार लेकर मेरे घर चले आए। बाबा ने तलवार से हमला करने की कोशिश भी की और वह पूरे परिवार को खत्म करने की धमकी देते हुए वहां से चले गए। बता दें कि कंप्यूटर बाबा की उपस्थिति के लिए शुक्रवार को प्रोडक्शन वारंट भी जारी किया गया है। बाबा के खिलाफ जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करने के मामले में भी गांधीनगर थाने में केस दर्ज किया गया है। बाबा पर अब तक तीन मामले दर्ज हो चुके हैं। सरकारी जमीन कब्जाने व उस पर बने अवैध आश्रम को बीते सप्ताह ढहाने पहुंची टीम के साथ हुज्जत करने पर उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका हैै।