श्री सक्सेना ने निर्वाचन के संबंध में अधिकारियों से की चर्चा…

मतदान केन्द्रों पर कोविड गाइडलाइन का पालन हो सुनिश्चित : संभागायुक्त

ग्वालियर। विधानसभा उप निर्वाचन-2020 के लिये मतदान 3 नवम्बर को होगा। मतदान से पूर्व मतदान केन्द्रों पर सभी व्यवस्थायें चाक-चौबंद की जाएँ। कोवडि संक्रमण के दृष्टिगत जारी की गई गाइडलाइन का पालन हो। मतदाता को मतदान केन्द्र पर किसी भी प्रकार की परेशानी न हो, यह सुनिश्चित किया जाए। संभाग आयुक्त आशीष सक्सेना ने मंगलवार को नगर निगम के बाल भवन में निर्वाचन के संबंध में अधिकारियों से चर्चा करते हुए यह बात कही। निर्वाचन की तैयारियों के लिये आहुत इस बैठक में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष तिवारी, एडीएम किशोर कान्याल, अपर आयुक्त नगर निगम आर के श्रीवास्तव उपस्थित थे। 

संभाग आयुक्त आशीष सक्सेना ने कहा कि मतदान केन्द्रों पर कोविड गाइडलाइन के तहत मतदान करने आने वाले हर मतदाता का सेनेटाइजेशन करें। इसके साथ ही मतदाताओं को आवश्यकतानुसार मास्क एवं ग्लब्स की उपलब्धता हो, मतदाता को मतदान केन्द्र पर बैठने की व्यवस्था के साथ-साथ पेयजल की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने इस बात पर विशेष जोर दिया कि सभी मतदाताओं से अपील की जाए कि मतदान करने हेतु मतदान केन्द्र पर आते समय संक्रमण की रोकथाम हेतु मास्क अनिवार्यत: लगाकर आएँ। मतदान के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित किया जाए। संभाग आयुक्त श्री सक्सेना ने कहा कि मतदान केन्द्र पर सेनेटाइजेशन, थर्मल स्क्रीनिंग, ग्लब्स वितरण आदि के लिये व्यक्तिश: कर्मचारियों की जवाबदेही तय की जाए। 

मतदान केन्द्रों पर तैनात किए जाने वाले कर्मचारियों को प्रशिक्षित भी किया जाए। इसके साथ ही इस बार मतदान प्रात: 7 बजे से शाम 6 बजे तक होना है। मतदान केन्द्रों पर लाईट की व्यवस्था भी अच्छे से की जाए। मतदाताओं को टोकन का वितरण हो तथा उनका नम्बर आने पर मतदान कराने की व्यवस्था की जाए। मतदान केन्द्र पर मतदाता के आते और जाते समय सेनेटाइज करने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि शहरी क्षेत्र में नगर निगम एवं ग्रामीण क्षेत्र में जिला पंचायत के माध्यम से मतदान केन्द्रों पर व्यवस्थायें सुनिश्चित की जा रही हैं। निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन के लिये जारी किए गए दिशा-निर्देशों के साथ-साथ कोविड संक्रमण की रोकथाम हेतु जारी की गई गाइडलाइन का भी पालन सुनिश्चित किया जायेगा।