सकारात्मक सोच का जादू…

सोच का हमारे जीवन पर 100 परसेंट असर पड़ता है : बी.के. प्रह्लाद

ग्वालियर। डिग्निटी फाउंडेशन के चाय मस्ती सेंटर नासिक द्वारा वेबिनार का आयोजन किया गया जिसका विषय था "सकारात्मक सोच का जादू" विषय के अंतर्गत ग्वालियर से मुख्य वक्ता के रूप में मोटिवेशनल स्पीकर बी.के. प्रह्लाद भाई ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि आज हर व्यक्ति अपने जीवन मे खुश रहना चाहता है लेकिन परिस्थितियां उसकी ख़ुशी को गुम कर देती है| तो उसके लिए बहुत ज़रूरी है की वह अपनी सोच को सकारात्मक बनाये तो आधी से ज्यादा परेशानियां आपके जीवन से स्वतः ही समाप्त हो जायेंगी | 

क्योकि सोच का हमारे जीवन पर 100 परसेंट असर पड़ता है | अब आपके मन में प्रश्न आ रहा होगा की हर समय अपने आपको सकारात्मक कैसे रहा जाये | सकारात्मक रहने का सबसे अच्छा तरीका है अपने दिन भर की दिनचर्या में अपने संग की सम्भाल करना | इसलिए कहते है जैसा संग वैसा रंग अब संग व्यक्तियों का ही नहीं होता बल्कि गैजेट्स का भी होता है क्योकि आप जो देखते है, सुनते है, पढ़ते है यह सब चींजे आपकी सोच को प्रभावित करती है| 

इसलिए हमें रोजाना अपने को चैक करते रहना चाहिए | ऐसा करने पर आप नकारात्मकता से दूर रहेंगे और अपने को खुश भी रख सकेंगे | और इसके साथ थोडा समय मेडिटेशन के लिए सभी को निकालना चाहिए | इस जीवन मे समस्याएं तो सबके साथ आती है लेकिन समस्या कितनी भी बढ़ी हो लेकिन हमारे चेहरे से खुशी गुम न हो | हमेशा अपनी सोच को सकारात्मक रखना है कि जो होगा बहुत अच्छा होगा सोच ही हमारे जीवन का निर्माण करती है तो जैसा सोचेंगे वैसे बन जाएंगे |

प्रतिदिन दिन की शुरुवात में करें कुछ संकल्प -

  • मै जो हूँ जैसा हूँ बहुत अच्छा हूँ |
  • मै परमात्मा की सबसे सुन्दर और श्रेष्ठ रचना हूँ |
  • मै महान आत्मा हूँ |
  • मै सदैव खुश रहनी वाली आत्मा हूँ |
  • शांति में रहना मेरा स्वाभाव है |
  • मै शक्तिशाली आत्मा हूँ  |
  • सफलता मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है  |
  • मुझे सबका सहयोग मिल रहा है  |
  • मेरा मन शक्तिशाली हो रहा है |
  • परमात्मा जो मेरा पिता है मै सदैव उसकी छत्रछाया में हूँ |

इस तरह से जब आप प्रतिदिन सकारात्मक चिंतन करेंगे तो आपको अनेकानेक फायदे होंगे |कार्यक्रम के अंत में सभी को मेडिटेशन के माध्यम से गहन शांति की अनुभूति भी कराई | इस अवसर पर डिग्निटी फाउंडेशन के वोलेंटियर सी.ए. राहुल बजाज एवं कोमल बजाज (हेड चाय मस्ती सेंटर) सहित 60 से भी अधिक वरिष्ठ नागरिको ने कार्यक्रम में भाग लिया |