मुरैना का एक साधारण किसान बोला...

सरकार को नहीं है गरीबों की परवाह : रामकिशोर

रामकिशोर ने अभी हाल ही में सरसों की बुआई के लिए हाल ही में खेत जुतवाया था। किसान रामकिशोर ने बताया कि प्रशासन ने बगैर पूछे सीएम के कार्यक्रम के लिए उसके खेत को सभा स्थल बनाने के लिए उसके खेत की मेढ़ को भी मिटा दिया है और जब उसने इस पूरे मामले में आपत्ति जताई तो प्रशासन ने किसान को धमकाते हुए चुप कराने की कोशिश की । और उससे कहा कि वह ज्यादा नेतागिरी करेगा तो उस पर पुलिस से केस लगवाकर लॉकअप में बंद कराने की धमकी दी गयी। मामले के चलते किसान पिछले दो दिन से घर नहीं गया है. वह वहीं उसी खेत पर डेरा डाल कर बैठा है कि जब तक उसे न्याय नहीं मिलेगा वह वहां से नहीं जाएगा.

वही दूसरी तरफ उपचुनाव में सबसे ज्यादा सरगर्मी उन सीटों पर है जिन सीटों पर कांग्रेस का हाथ छोड़कर बीजेपी का भगवा चोला उड़ने का काम हुआ हैं. दरअसल कांग्रेस विधायकों के दल बदलने को लेकर उनके विधानसभा क्षेत्र में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. पूर्व विधायक के विधानसभा क्षेत्र में पहुंचने पर कई जगह से विरोध करने और काले झंडे दिखाने के फोटो और वीडियो वायरल हो रहे हैं. लेकिन पूर्व विधायकों के विरोध को लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है।

हाल ही में प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया ने कहा है कि पूर्व विधायकों का विरोध पूरी तरीके से कांग्रेस प्रायोजित है. भदौरिया ने कांग्रेस पर प्रदूषित राजनीति के चलते पूर्व विधायकों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन और काले झंडे दिखाने का आरोप लगाया हैं. सहकारिता मंत्री ने दावा किया है कि बीजेपी सरकार के कामों को लेकर खुश जनता भाजपा पर ही मुहर लगाएगी और उपचुनाव के नतीजे कांग्रेस को करारा जवाब देने का काम करेंगे।