पायलट को स्टार प्रचारक बनाने की तैयारी…

नाथ ने कमल को हराने के लिए मांगा सचिन का साथ 

भोपाल l मध्य प्रदेश के उपचुनाव को लेकर कांग्रेस का खासा फोकस ग्वालियर-चंबल संभाग पर है. यही वजह है कि कमलनाथ सिंधिया के गढ़ में सेंधमारी के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं. वहीं अब वो गुर्जर बाहुल्य सीटों पर लोगों को रिझाने के लिए कांग्रेस राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट को स्टार प्रचारक बनाने की तैयारी कर रहे हैं. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने ग्वालियर-चंबल संभाग में चुनाव प्रचार के लिए सचिन पायलट की मांग की है. 

दरअसल राज्य की 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहा है जिसमें से 16 सीटें ऐसी जो सिंधिया के गढ़ यानी ग्वालियर और चंबल प्रभाग से आती हैं. इन 16 सीटों में से 9 सीटें तो गुर्जर बाहुल हैं तो ऐसे में सिंधिया को चुनौती देने के लिए कांग्रेस पायलट को उतारने की तैयारी कर रही है. राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के मित्र हैं.जब राजस्थान में सचिन पायलट ने पार्टी से बगावत की थी तब सिंधिया ने पायलट के समर्थन में कई ट्वीट किए थे. ऐसे में कांग्रेस उनके सामने सचिन पायलेट को उतारकर गुर्जर बाहुल्य सीट पर फायदा उठाना चाहती है. 

आपको बता दें कि  पायलट पहले भी इस क्षेत्र में उस समय कांग्रेस के लिए प्रचार कर चुके हैं जब 2017 में विधानसभा चुनाव हुआ था. उनके रुतबे को देखकर ही कांग्रेस ने पायलट को मैदान में उचारने का मन बनाया है. विधानसभा की 28 सीटें रिक्त हैं जिन पर उपचुनाव होने हैं. इनमें से 25 सीटें कांग्रेस विधायकों के इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने से खाली हुई हैं, जबकि दो सीटें कांग्रेस के विधायकों के निधन से और एक सीट भाजपा विधायक के निधन से रिक्त है. हालांकि, चुनाव आयोग ने फिलहाल उपचुनाव का कार्यक्रम घोषित नहीं किया है.