फायनेस कम्पनी का फील्ड आँफीसर ही निकला मास्टर माइण्ड…

साथी के साथ मिल फर्जी लूट दर्शाकर कम्पनी से वसूली रकम

ग्वालियर। विगत दिनों फरियादी सोनवीर सिह पुत्र मनोहर सिह जाट द्वारा थाना बिजौली आकर रिपोर्ट की थी कि दिनांक 04/09/2020 को दोपहर 04:30 बजे फायनेस कम्पनी की बसूली की रकम लेकर लौटते समय दो अज्ञात बदमाशों द्वारा कट्टा अड़ाकर फरियादी से फायनेस कम्पनी की बसूली की रकम रूपये 212470 नगद, दो मोवाईलए एक टेप लूट लिया गया। इस पर से थाना बिजौली पुलिस ने फरियादी द्वारा बताये गये तथ्यों की तस्दीक हेतु मौका मुआयना किया गया। उक्त घटना की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुऐ पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी;भापुसेद्ध द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ग्रामीण रायसिह नरवरिया एंव एसडीओपी बेहट केण्एम गोस्वामी को उक्त मामले का शीघ्र खुलासा करने हेतु निर्देशित किया। 



वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन एवं निर्देiशन में कार्य करते हुए थाना प्रभारी बिजौली सुरजीत परमार ने मय थाना बल  के फरियादी के बताये अनुसार घटना की जांच करते हुए घटना स्थल एवं आस.पास के क्षैत्र में पूछताछ करने पर पाया कि फरियादी द्वारा बताई गई घटना संदिग्ध है। दौराने विवेचना पुलिस को ज्ञात हुआ कि घटना के समय से ही फरियादी की किसी व्यक्ति से बात हो रही थी जो कि फतेहपुर उत्तरप्रदेश का निवासी है एवं फरियादी के भी फतेहपुर उत्तरप्रदेश का निवासी होने पर पुलिस को संदेह हुआ। 

संदेह के आधार पर पुलिस द्वारा फरियादी सोनवीर सिह पुत्र मनोहर सिह जाट निवासी खेडा जाट थाना फतेहपुर सिकरी आगरा हाल एम/एच चौराहा मुरार से सख्ती से पूछताछ करने पर उसके द्वारा झूठी शिकायत कर अपने साथी अनिल पुत्र राजवीर जाट निवासी जाट खेडा थाना फतेहपुर सिकरी जिला आगरा, उत्तरप्रदेश की मदद से योजनाबद्ध तरीके से कंपनी की बसूली के रूपयों को हड़प करने की योजना बनाई थी। पुलिस द्वारा सोनवीर के पास से कंपनी की बसूली के 01 लाख 20 हजार रुपयेए एक टेप सैम्मसन कम्पनी काए एक मोबाईल जिओ कंपनीए एक वैग एवं एक मोटर सायकिल को बरामद किया गया। 

सोनवीर की निशादेही पर उसके साथी अनिल पुत्र राजवीर जाट को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर उसके पास से 92 हजार 470 रुपये एवं एक मोटर सायकिल को बरामद किया गया। दोनों लोगों से पुलिस द्वारा कुल नगदी 02 लाख 12 हजार 470 बरामद की गई। पुलिस पूछताछ में सोनवीर ने बताया कि उसने दिनांक 18/08/2020 को मित्रा फायनेंस कंपनी मे फील्ड अफसर के पद पर ज्वांइन किया था। इसके पूर्व वह बंधन बैंक शाखा खैरागढ़ में काम करता था। पुलिस द्वारा गिरफ्तार दोनों बदमाशों के पुराने आपराधिक रिकार्ड की जानकारी ली जा रही है साथ ही यह भी पता किया जा रहा है कि उनके द्वारा पूर्व में भी कहीं उक्त प्रकार की घटनाओं को अंजाम तो नहीं दिया गया है।