माँ के दूध से शिशु को रोगों से लड़ने की शक्ति मिलती है…
महिला एवं बाल विकास मंत्री ने किया विश्व स्तनपान सप्ताह का शुभारंभ 

ग्वालियर। महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने एक अगस्त से 7 अगस्त 2020 तक संचालित होने वाले विश्व स्तनपान सप्ताह का ग्वालियर में ऑनलाइन शुभारंभ किया। मंत्री इमरती देवी ने ग्वालियर में ओल्ड झाँसी रोड़ स्थित अपने शासकीय निवास पर शनिवार को ऑनलाइन व्हीसी के माध्यम से विश्व स्तनपान सप्ताह का शुभारंभ कर विभाग के अधिकारी व कर्मचारी तथा सरपंचों को संबोधित करते हुए कहा कि जन्म के एक घंटे के तत्काल बाद एवं 6 माह तक शिशु के लिये माँ का दूध अमृत है। माँ का दूध पिलाने से बच्चा बार-बार बीमार नहीं पड़ता, बल्कि माँ के दूध से शिशु को रोगों से लड़ने की शक्ति भी प्राप्त होती है। माँ का दूध बच्चों को जीवनभर दवा का काम करता है। इमरती देवी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि चिकित्सक, नर्स, पैरामेडीकल स्टाफ, सफाईकर्मी सहित महिला एवं बाल विकास विभाग की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका तथा पर्यवेक्षक आदि द्वारा कोविड-19 के संक्रमण को रोकने में एवं जन जागरूक करने में कोरोना योद्धा के रूप में कार्य कर अपनी जिम्मेदारी का बेहतर निर्वहन किया गया। 

इसी प्रकार लगन एवं मेहनत के साथ एक से 7 अगस्त 2020 तक संचालित होने वाले विश्व स्तनपान सप्ताह के संबंध में विभाग का मैदानी अमला घर-घर जाकर महिलाओं को जानकारी दे तथा शिशु को माँ के दूध के महत्व को बताएँ और माताओं को अपने शिशु को जन्म से 6 माह तक माँ का दूध पिलाने हेतु प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि ऐसी गरीब परिवार की महिलायें जो मेहनत मजदूरी के कारण अपने बच्चों पर ध्यान नहीं दे पाती हैं। उन परिवारों को घर पर पोषण आहार भेजने की व्यवस्था करें। उन्होंने कहा कि महिला एवं बाल विकास विभाग के अमले के माध्यम से कई जिलों में कुपोषण मुक्त करने में अहम भूमिका निभाई गई। आगे भी विभाग के मैदानी कर्मचारी के कंधों पर बच्चों को कुपोषण से मुक्त करने की अहम जिम्मेदारी है। इस कार्य को कार्यकर्ता, सहायिका एवं सुपरवाइजर बेहतर तरीके से करें । मंत्री इमरती देवी ने कहा कि विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारियों ने उनके नेतृत्व में जो प्रदेश में बेहतर कार्य किए हैं वह एक मंत्री के रूप में नहीं बल्कि उनकी बहन के मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में कार्य किया है, जिसके लिये सभी बधाई के पात्र हैं। 

महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कहा कोरोना काल में नवजात शिशुओं के साथ-साथ छोटे बच्चों के स्वास्थ्य पर भी विशेष ध्यान देने की समझाइश माताओं को दें। महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कहा कि कोरोना बीमारी से घबराएं नहीं बल्कि इसका डटकर मुकाबला करें। घर से बाहर निकलते समय मास्क का उपयोग करें, हाथों को बार-बार साबुन से धोएं, सेनेटाइज करें, सामाजिक दूरी बनाकर रखें। कोरोना काल में गर्भवती महिलाओं के साथ छोटे बच्चों के पोषण पर भी विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। सप्ताह के शुभारंभ कार्यक्रम के पूर्व महिला एवं बाल विकास विभाग की संचालक स्वाति मीणा ने व्हीसी के माध्यम से एक अगस्त से शुरू हो रहे विश्व स्तनपान सप्ताह में संचालित होने वाली गतिविधियों की जानकारी देते हुए कहा कि विभाग में अधिकारी एवं कर्मचारियों को जो दिशा-निर्देश दिए गए हैं, उनका पालन करते हुए कुपोषण से मुक्ति की दिशा में बेहतर तरीके से कार्य किए जाएँ। व्हीसी के दौरान ग्वालियर में महिला एवं बाल विकास के जिला कार्यक्रम अधिकारी राजीव सिंह भी उपस्थित थे।