मनरेगा की समीक्षा बैठक में जिला पंचायत सीईओ ने दिए निर्देश…

हर जरूरतमंद श्रमिक को मुहैया कराएँ रोजगार : श्री वर्मा

ग्वालियर। लेबर बजट के तहत हर ग्राम पंचायत की कार्ययोजना में शामिल कार्यों के माध्यम से जरूरतमंद श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराएँ। साथ ही श्रमिकों के मस्टर रोल भी तत्परता से जारी करें, जिससे उन्हें समय पर मजदूरी का भुगतान हो सके। 

इस आशय के निर्देश महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) के तहत चल रहे रोजगारमूलक कार्यों की समीक्षा के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी शिवम वर्मा ने जिले की सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, सहायक यंत्री व उपयंत्रियों को दिए। 

यहाँ जिला पंचायत के सभागार में आयोजित हुई बैठक में श्री वर्मा ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि मनरेगा के तहत चल रहे अधूरे कार्यों को तेजी से पूर्ण कराएँ। साथ ही जो कार्य पूरे हो चुके हैं उनके पूर्णता प्रमाण-पत्र भी जारी करें। उन्होंने मनरेगा के तहत विशेष पद्धति से लुप्त प्रजाति के पौधों को बचाने के लिये सामुदायिक सघन वृक्षारोपण करने के निर्देश भी दिए। 

साथ ही शासकीय भवनों के चारों ओर जैविक बांगड लगाई जाएं। अर्थात सहजना, आंवला, बोगनबिलिया, करोंधा इत्यादि के पौधे रोपे जाएँ। वन मण्डलाधिकारी अभिनव पल्लव ने बैठक में कहा कि प्रवासी श्रमिकों को मनरेगा से अधिक से अधिक रोजगार मुहैया कराने के लिए गौशालाओं व जल संरचनाओं के समीप स्थित वन भूमि पर पौधरोपण इत्यादि कार्य कराए जा सकते हैं।