कोरोना महामारी की चेन तोड़ने ग्वालियर में…
लॉकडाउन में बाहर निकलने वालों के खिलाफ दर्ज हुई FIR
सांकेतिक तस्वीर

ग्वालियर। कोरोना महामारी की चेन तोड़ने 7 दिन के टोटल लॉकडाउन में भी लोग सड़कों पर निकलने से बाज नहीं आए। पुलिस चेकिंग में पकड़े गए लोग दवा लेने या अस्पताल दिखाने जाने का बहाना करते नजर आए। जिस पर दिन भर में 2 मामले लॉकडाउन उल्लघंन के दर्ज हुए हैं। जबकि 150 से अधिक के रेडक्रॉस व मोटर व्हीकल एक्ट के तहत चालान किए गए हैं। खुद एसपी नवनीत भसीन पुलिस की चेकिंग का मुआयना करने 2 घंटे से ज्यादा सड़क पर रहे। इसके बाद कन्ट्रोल रूम से वायरलेस सेट पर पल-पल की खबर लेते रहे। पुलिस हेल्पलाइन पर गलियों में लोगों के खड़े होने और भीड़ लगाने की सूचना पर दिन और रात में बुलट पेट्रोलिंग भी कराई गई है। माधवगंज में जटार साहब की गली में एक दुकान खुले होने की सूचना एसपी नवनीत भसीन को पुलिस हेल्पलाइन पर मिली थी। जिस पर तत्काल उन्होंने माधवगंज टीम को अलर्ट किया।

करीब दोपहर के 2.30 बजे जब पुलिस पहुंची तो दुकान संचालक संतोष विश्वकर्मा दुकान खोलकर पुड़िया, सिगरेट व अन्य सामान बेचता हुआ पाया गया। दुकान पर काफी भीड़ लगा रही थी। शटर डाउन था ग्राहक के आते शटर उठाकर दुकान चलाता पकड़ा। जिसके खिलाफ तत्काल दुकान बंद कराकर मामला दर्ज किया गया है। बहोड़ापुर के आनंद नगर में किराना दुकान खुले होने की सूचना भी एसपी ग्वालियर को हेल्पलाइन पर मिली थी। दोपहर करीब 2 बजे आनंद नगर में जब पुलिस पहुंची तो रविन्द्र पाल नामक व्यवसायी किराना दुकान का शटर खोलकर बैठा था। बाहर 6 से 7 लोग खड़े थे। यहां भी पुलिस ने दुकान पर ताला डालकर संचालक रविन्द्र पाल पर मामला दर्ज किया है। 7 दिन के टोटल लॉकडाउन के पहले दिन पुलिस ने 25 से अधिक प्वाइंट पर चेकिंग शुरू की। सुबह 10 बजे पुलिस जवान व अफसर सड़कों पर आए। दुकानें बंद कराकर ठेले वालों को भी हटाया। 

इसके बाद सड़क पर बिना कारण निकलने वालों की खैर ली। माधवगंज चौराहा पर पुलिस ने बाइक सवार को पकड़ा। उसने बताया दवा लेने आया है। एक पर्चा भी दिखाया, लेकिन उस पर डेट पेन से कटी हुई थी। साफ था छेड़छाड़ की गई है। जब युवक का नाम पूछा तो उसने अतुल कुमार निवासी सुरेश नगर थाटीपुर बताया। पुलिस ने जब पूछा कि वहां से दवा लेने यहां आया तो युवक घबरा गया। इसके बाद उसका चालान किया। साथ ही समझाया कि यह उसके हित के लिए किया जा रहा है। इसी तरह बुधवार शाम 7 बजे तक 150 चालान हो चुके थे। पुलिस हेल्पलाइन नंबर पर सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे के बीच 12 घंटे में 17 कॉल व मैसेज आए। जिसमें 7 सूचनाएं गली मोहल्लों में लोगों के भीड़ लगाकर खड़े होने की थी। इसके बाद तत्काल पुलिस की बुलट का उपयोग कर पेट्रोलिंग शुरू कराई गई। 2 सूचनाएं दुकान खुलने की थी। शेष बाजारों में ठेले लगने की थी।