त्यौहारों को घर पर ही मनाने की अपील…
रविवार को लॉकडाउन की बनी सहमति 

ग्वालियर। कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम में सभी का सहयोग अपेक्षित है। सोशल डिस्टेंसिंग के माध्यम से ही कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सकता है। आने वाले त्यौहारों में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो और बाजारों में अनावश्यक भीड़ न हो, इसके लिये त्यौहार अपने-अपने घरों में मनाने की अपील की गई है। जिला क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए गए। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में शुक्रवार को क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित हुई। 

बैठक में क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, जिला पंचायत की स्थानीय समिति की अध्यक्ष मनीषा भुजवल सिंह यादव, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, एडीएम किशोर कन्याल, एडिशनल एसपी पंकज पाण्डेय एवं सतेन्द्र तोमर, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, पूर्व विधायक मदन कुशवाह, भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी, भाजपा पूर्व जिला अध्यक्ष देवेश शर्मा, बहुजन समाज पार्टी के जिला अध्यक्ष दिनेश मौर्य, चेम्बर ऑफ कॉमर्स के मानसेवी सचिव प्रवीण अग्रवाल, कैट के अध्यक्ष भूपेन्द्र जैन, विधायक प्रवीण पाठक के प्रतिनिधि मोहन माहेश्वरी सहित समिति के सदस्य और विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि प्रत्येक रविवार को लॉकडाउन किया जायेगा। समिति के सभी सदस्यों की सलाह पर राखी एवं ईद के त्यौहार को देखते हुए अगस्त माह के प्रथम रविवार को सम्पूर्ण लॉकडाउन न करते हुए आवश्यक दुकानें खोलने की छूट त्यौहारो को देखते हुए रहेगी। बैठक में यह भी तय किया गया कि प्रत्येक सप्ताह रविवार के साथ-साथ एक दिन और लॉकडाउन का प्रस्ताव है जिस पर सभी की सहमति के बाद निर्णय लिया जायेगा। कलेक्टर श्री सिंह ने यह भी जानकारी दी कि राखी और ईद के त्यौहार को देखते हुए छोटे-छोटे व्यवसाइयों को एक स्थान पर व्यवसाय करने की अनुमति देने के संबंध में निर्णय लिया गया है कि शहर में 8 – 10 स्थान चिन्हित कर छोटे व्यवसाइयों को उन स्थानों पर व्यवसाय करने हेतु अनुमति प्रदान की जायेगी। 

उन्होंने चेम्बर ऑफ कॉमर्स के साथ-साथ सभी जनप्रतिनिधियों से भी आग्रह किया कि वे अपने स्तर से आमजनों से अपील करें कि वे त्यौहारों पर जो आवश्यक खरीददारी है उसे अभी से करके रखें ताकि त्यौहारों पर बाजारों मे अनावश्यक रूप से भीड़ न हो। इसके साथ ही जब तक बहुत जरूरी न हो, लोग अपने घरों से न निकलें। घरों से निकलना अगर आवश्यक हो तो कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये सभी आवश्यक उपाय अवश्य करें। क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि श्रीगणेश उत्सव और ताजिया लोग अपने-अपने घरों पर ही स्थापित करें। 

सार्वजनिक स्थानों पर श्रीगणेश प्रतिमा एवं ताजियों को रखना प्रतिबंधित रहेगा। ताजियों और गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के लिये भी नगर निगम के माध्यम से वाहनों की व्यवस्था की जायेगी। गणेश प्रतिमाएं लोग अपने घरों पर ही विसर्जित करें। बैठक में क्राइसेस मैनेजमेंट के सभी सदस्यो ने अपने-अपने महत्वपूर्ण सुझाव भी रखे। समिति के सदस्यों ने लॉकडाउन रविवार को रखने की सहमति व्यक्त की। इसके साथ ही बाजारों में भीड़ को नियंत्रित करने के लिये भी विशेष प्रयास करने की बात रखी।