71 दिन बाद पूरी होगी शिवराज सरकार…
शिवराज सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार 2 जुलाई को

भोपाल। शिवराज सरकार की कैबिनेट बनने के 71 दिन बाद गुरुवार यानी 2 जुलाई को मंत्रिमंडल का पहला विस्तार होने जा रहा है. यानी अब जाकर शिवराज सरकार पूरी होगी. सीएम शिवराज ने बुधवार को खुद इस बारे में जानकारी दी. नए मंत्री गुरुवार सुबह 11 बजे राजभवन में शपथ लेंगे. इसको लेकर राजभवन में तैयारी भी शुरू हो चुकी है. शपथ समारोह में ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल होंगे. खबर है कि गोपाल भार्गव, भूपेंद्र सिंह, विश्वास सारंग, अरविंद भदौरिया और रामकिशोर कांवरे के नाम पर हाईकमान ने मुहर लगा दी है. 

वहीं रात 8 बजे सिंधिया खेमे के प्रद्युम्न सिंह तोमर भी सीएम हाउस पहुंचे हैं. अभी मंत्री पद के लिए दावेदारों के नाम पर मंथन चल रहा है. भाजपा के प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे मंत्रिमंडल का फॉर्मूला लेकर पार्टी कार्यालय पहुंचे हैं. उन्होंने असंतुष्ट विधायकों और मंत्री पद के संभावित दावेदारों से वन-टू-वन चर्चा भी की है. बताया जा रहा है कि उनके पास संभावित चेहरों लिस्ट भी है. अमृत और विष वाले बयान पर दिनभर सुर्खियों में रहे शिवराज आपको बता दें कि पिछली बार सिर्फ 5 मंत्रियों वाली मिनी कैबिनेट ने 21 अप्रैल को शपथ ली थी. इसमें तीन चेहरे बीजेपी के थे तो दो चेहरे सिंधिया खेमे के थे. 

प्रदेश में सियासी उठापटक के बाद 23 मार्च को शिवराज ने अकेले शपथ ली थी. कैबिनेट विस्तार पर घमासान के बीच बुधवार को मीडिया ने शिवराज सिंह से सवाल किया. इस पर उन्होंने कहा, ‘‘जब भी मंथन होता है, अमृत निकलता है. अमृत तो बंट जाता है, लेकिन विष शिव पी जाते हैं.’’ हालांकि शिवराज के इस बयान पर कमलनाथ ने भी तंज कसा था. उन्होंने कहा था, मंथन इतना लंबा हो गया कि अमृत तो निकला नहीं, सिर्फ विष ही विष निकला है. उन्होंने कहा कि मंथन से निकले विष को अब रोज पीना पड़ेगा क्योंकि अब रोज मंथन होगा और अमृत के लिये तरसना पड़ेगा. इस विष का परिणाम तो अब हर हाल में भोगना पड़ेगा.