29 से सप्ताह में तीन दिन होगा दस्तावेज सत्यापन का काम...
फिर शुरू हुई शिक्षक भर्ती प्रक्रिया

भोपाल। मध्य प्रदेश में लॉकडाउन की वजह से अटकी करीब 20 हजार स्कूली शिक्षकों की भर्ती  प्रक्रिया फिर से शुरू होने जा रही है| 29 जून से उम्मीदवारों के दस्तावेजों के सत्यापन  का काम शुरू हाे जाएगा। अभ्यर्थियों के दस्तावेजों के सत्यापन की कार्यवाही संभागीय संयुक्त संचालक तथा जिला शिक्षा अधिकारियों के माध्यम से प्रारंभ की जा रही है| जुलाई माह से प्रत्येक सप्ताह के बुधवार गुरुवार एवं शुक्रवार को सत्यापन के लिए नियत किया गया है| सत्यापन के लिए अभ्यर्थी निर्धारित तिथि स्थान एवं समय पर अपने मूल दस्तावेज के साथ संभागीय संयुक्त संचालक, जिला शिक्षा अधिकारी के समक्ष उपस्थित होकर दस्तावेजों का सत्यापन करा सकेंगे|

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा प्रदेश के समस्त कलेक्टर, संभागायुक्त को दस्तावेजों के सत्यापन के सम्बन्ध में सोमवार को आदेश जारी किये हैं| उच्च माध्यमिक स्कूल के 15 हजार और माध्यमिक शिक्षक के 5670 पद पर भर्ती होना है। आदेश में कहा गया है कि मूल दस्तावेजों का अवलोकन कर सत्यापन की समस्त जवाबदेही संभागीय संयुक्त संचालक तथा जिला शिक्षा अधिकारी की है| नियमित कार्यालयीन कार्य पर इसका न्यूनतम प्रभाव न हो इस तथ्य को दृष्टिगत रखते हुए जुलाई माह से प्रत्येक सप्ताह के बुधवार गुरुवार एवं शुक्रवार को सत्यापन के लिए नियत किया गया है|

आदेश में कहा गया है कि सत्यापन के लिए निर्धारित दिवसों पर संभागीय संयुक्त संचालक, जिला शिक्षा अधिकारी को बैठक को अथवा अन्य से किसी दायित्व से मुक्त रखेंगे, जिसकी वजह से दस्तावेजों के सत्यापन कार्य पर विपरीत प्रभाव न पड़े, जब तक सत्यापन की कार्रवाई संपन्न नहीं हो जाती है तब तक स्थानीय स्तर से संभागीय संयुक्त संचालक तथा जिला शिक्षा अधिकारियों को किसी भी प्रकार के अवकाश स्वीकृत नहीं किये जाएंगे और ना ही मुख्यालय छोड़ने की अनुमति दी जायेगी|

बता दें कि 29 जून से दस्तावेजों के सत्यापन का काम शुरू होगा| विभाग 1 सितंबर तक सभी चयनित शिक्षकों को नियुक्ति देने की तैयारी कर रहा है| उच्च माध्यमिक शिक्षक पद पर 15 हजार और माध्यमिक शिक्षक पद पर 5670 उम्मीदवारों की भर्ती होनी है| इन पदों की पूर्ति होने से स्कूल शिक्षा व्यवस्था में गुणात्मक सुधार होगा|