लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जारी आदेश…
जिला जल एवं स्वच्छता मिशन का हुआ पुनर्गठन

ग्वालियर। “जिला जल एवं स्वच्छता मिशन” का पुनर्गठन किया गया है। भारत सरकार के पेयजल, स्वच्छता एवं जल शक्ति मंत्रालय और राज्य शासन के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जारी आदेश के परिपालन में जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में इस मिशन का गठन किया गया है।

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिला जल एवं स्वच्छता मिशन के उपाध्यक्ष का दायित्व जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को सौंपा है। संभागीय वनमण्डलाधिकारी, जिला परियोजना निदेशक आईटीडीपी, जिला चिकित्सा अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन व लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, जिला कृषि अधिकारी, जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी तथा महाप्रबंधक परियोजना क्रियान्वयन इकाई जल निगम को मिशन में बतौर सदस्य शामिल किया गया है।

जिला जल एवं स्वच्छता मिशन खासतौर पर हर गाँव में पेयजल व्यवस्था के लिये ग्राम कार्य योजना तैयार करेगा। साथ ही वर्ष 2024 तक हर ग्रामीण परिवार को घरेलू नल कनेक्शन देने के लिये जिला कार्ययोजना को भी अंतिम रूप देगा। इसके अलावा जल आपूर्ति परियोजनाओं की स्वीकृति, गाँव के भीतर मौजूद जल स्त्रोतों के प्रबंधन के लिये निधि की व्यवस्था, जल परियोजनाओं की डीपीआर तैयार करना, जल आपूर्ति से जुड़े विभिन्न विभागों के बीच समन्वय, प्रधानमंत्री कौशल विकास केन्द्र के साथ मिलकर कुशल मानव संसाधन के समूह तैयार करना इत्यादि काम भी जिला जल एवं स्वच्छता मिशन द्वारा किए जायेंगे।