एक दिन में 9304 नए मामले आए…
कोरोना के मामलों में आया जबरदस्त उछाल

गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 9 हजार 304 नए मामले सामने आए हैं और 24 घंटे में ही इस जानलेवा बीमारी की चपेट में आकर 260 लोगों की मौत हो गई. वहीं, पिछले 24 घंटे में 3 हजार 804 लोग ठीक हुए हैं. अब देश में कुल मरीजों की संख्या 2 लाख 16 हजार 919 है. इसमें से 6 हजार 75 लोगों की मौत हो चुकी है. राहत की बात है कि करीब 50 फीसदी यानी 1 लाख 4 हजार 107 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके हैं. अभी देश में कुल एक्टिव केस की संख्या 1 लाख 6 हजार 737 है. पिछले कुछ दिनों में मरीजों के ठीक होने का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. 

स्वास्थय मंत्रालय के मुताबिक, महाराष्ट्र में 2587, गुजरात में 1122, दिल्ली में 606, मध्य प्रदेश में 371, तमिलनाडु में 208, तेलंगाना में 99, आंध्र प्रदेश में 68, कर्नाटक में 53, उत्तर प्रदेश में 229, पंजाब में 47, पश्चिम बंगाल में 345, राजस्थान में 209, जम्मू-कश्मीर में 34, हरियाणा में 23, केरल में 11, झारखंड में 5, बिहार में 25, ओडिशा में 7, असम में 4, हिमाचल प्रदेश में 5, मेघालय में 1 मौत हुई है. कोरोना वॉरियर्स डरे हुए हैं, सहमे हुए हैं. मजबूरी में दिल्ली के AIIMS में नर्स यूनियन ने प्रदर्शन किया. डर की वजह कोरोना नहीं है बल्कि कोरोना से बचाने के लिए बने पीपीई किट हैं. कोरोना संकट में लोगों की जान बचाने वाले इन कोरोना वॉरियर्स को अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर धरने पर बैठना पड़ा.

एम्स में प्रदर्शन कर रहीं नर्सों का कहना है कि ड्यूटी के दौरान उन्हें लगातार 6 घंटों तक पीपीई किट पहनकर काम करना पड़ता है. जिससे उनकी सेहत खराब हो रही है. किट पहनकर काम करने के दौरान उन्हें कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. नर्सों की मांग है कि उनकी ड्यूटी की अवधि 6 घंटे से घटाकर 4 घंटे की जाए और उनकी सुरक्षा पर ध्यान दिया जाए. अपनी मांग को लेकर इन नर्सों ने अस्पताल प्रशासन को चिट्ठी भी लिखी जिसमें कहा कि अगर उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया तो ये अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे.