मध्य प्रदेश में दो दिन बाद गर्मी से राहत मिलने के आसार…
प्रदेश में गर्मी से राहत मिलने के आसार दो दिन बाद

भोपाल। नौतपा में गर्मी के तेवर तीखे बने हुए हैं। मंगलवार को प्रदेश के छतरपुर, ग्वालियर, रीवा, सीधी, खरगोन, सतना, दमोह, टीकमगढ़, खंडवा और नरसिंहपुर में लू चली। 25 स्थानों पर दिन का अधिकतम तापमान 43 से 46 डिग्री के मध्य दर्ज किया गया। भीषण गर्मी का जनजीवन पर असर पड़ा।लोग दिनभर गर्मी से बेहाल रहे। 

मौसम केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार राजधानी भोपाल में अधिकतम तापमान 44 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक दो दिन बाद प्रदेश के तापमान में गिरावट आने की संभावना है। 
मौसम विज्ञान केंद्र के प्रवक्ता के मुताबिक प्रदेश में सबसे अधिक 46 डिग्री तापमान खजुराहो, खरगोन, रीवा, ग्वालियर और नौगांव में रिकॉर्ड किया गया। वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में पंजाब और उसके आस-पास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। 

उनके अनुसार इसके अतिरिक्त मंगलवार को हवाओं का रुख भी दक्षिण-पश्चिमी हुआ है। इससे अधिकतम तापमान में कई स्थानों पर मामूली गिरावट भी दर्ज हुई है। वरिष्ठ मौसम विज्ञानी शुक्ला के मुताबिक दो दिन बाद गर्मी से राहत मिलने की संभावना है। 30 मई को एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में दाखिल होने जा रहा है। इसके प्रभाव से वातावरण में नमी बढ़ेगी। बादल छाने और तेज हवाएं चलने से तापमान में गिरावट होगी। 

मालवा-निमाड़ अंचल में नवतपा के दूसरे दिन मंगलवार को लू के थपेड़ों से हर कोई परेशान रहा। खरगोन में अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस रहा। महाकोशल-विंध्य में नौतपा के दूसरे दिन रीवा में सबसे अधिक 46.2 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा। वहीं बालाघाट और सतना में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के ऊपर रहा। बुंदेलखंड के दमोह और पन्ना जिले में भी पारा 45 डिग्री सेल्सियस के पार ही रहा। दिनभर तीखी धूप के साथ ही गर्म हवाएं चलती रहीं। न्यूनतम तापमान 30 डिग्री के आसपास बना हुआ है।