अब तक 178 को हुआ कोरोना...

नांदेड़ साहिब से लौटे श्रद्धालुओं में निकले 187 कोरोना पॉजिटिव


नई दिल्ली। पंजाब में श्रद्धालु कोरोना संकट लगातार बढ़ता जा रहा है. महाराष्ट्र के नांदेड़ से लौटे 178 श्रद्धालु अबतक कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. नांदेड़ साहिब से लाए गए श्रद्धालुओं के कारण पंजाब में कोरोना वायरस का विस्फोट हो गया है. नांदेड़ से 3500 से ज्यादा श्रद्धालु पंजाब लौटे हैं. अभी कई लोगों की जांच रिपोर्ट आना बाकी है.


मालूम हो कि श्रद्धालुओं को लाने में लापरवाही बरती गई. नांदेड़ की बस जब अमृतसर पहुंची तो सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन साफ-साफ दिखा. विपक्ष के दवाब और श्रद्धालुओं की जिद में सरकार लोगों को ले तो आई लेकिन पूरे राज्य में कोरोना को खतरे को बढ़ा दिया.


1- श्रद्धालु सुरक्षित लौटें इसका कोई प्लान नहीं बना था
2- श्रद्धालु रास्ते में किसी संक्रमण की चपेट में ना आएं कोई प्लान नहीं था
3- कई श्रद्धालु प्राइवेट गाड़ी लेकर चल पड़े, कोई रोकने वाला नहीं था
4- प्लान नहीं था कि श्रद्धालु लौटेंगे तो उनका कोरोना टेस्ट होगा
5- प्लान था तो सिर्फ तापमान नाप कर घर भेज देने का


पंजाब में कहां कितने मरीज?
अमृतसर- 76
तरन तारन- 15
मोहाली- 15
लुधियाना- 38
कपूरथला- 10
होशियारपुर- 4
गुरदासपुर- 3
फरीदकोट- 3
पटियाला- 3
संगरूर-- 3
बठिंडा- 2
रोपड़- 2
मोंगा- 1
जालंधर- 1
नवां शहर 1
फिरोजपुर- 1

बता दें कि 3500 से ज़्यादा सिख श्रद्धालु कोरोना वायरस के बाद लागू लॉकडाउन के कारण महाराष्ट्र के तख़्त हुज़ूर साहिब में फंस गए थे. तमाम कोशिशों के बाद पंजाब सरकार को इनको वापस लाने में एक महीना लगा. पंजाब से 90 बसें श्रद्धालुओं को लाने के लिए भेजी गईं थी. इसके बाद सभी श्रद्धालुओं को क्वारंटाइन करके कोविड सैम्प्लिंग करने के आदेश जारी किए गए. लेकिन अब बढ़ते केस देखकर सरकार के होश उड़े हुए हैं.