दोहपर में एक घंटा घूमकर ली विस्तृत जानकारी...

स्मार्ट सड़क प्रोजेक्ट का सीईओ ने लिया जायजा


ग्वालियर। स्मार्ट सिटी के सीईओ का पद संभालने के बाद जयति सिंह ने एक-एक प्रोजेक्ट की समीक्षा तथा धरातल पर किए जा रहे कार्यों की जानकारी लेना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को उन्होंने स्मार्ट सड़क के 242 करोड़ के प्रोजेक्ट की जानकारी ली। सड़क कहां से कहां तक और कैसे बनेगी, इसे देखने वे भ्रमण पर निकलीं।

दोहपर में एक घंटा घूमकर उन्होंने स्मार्ट सिटी के अधिकारियों से इसकी विस्तृत जानकारी ली। यह सड़क जीवाजी क्लब से अचलेश्वर, आमखो, केआरजी कॉलेज, रॉक्सी पुल, बाड़ा, सराफा होते हुए इंदरगंज तक बनना है। दूसरी रोड बाड़ा से हनुमान चौराहा, नई सड़क होते हुए इंदरगंज तक पहुंची।

इस प्रोजेक्ट पर 242 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसे शहर की आधुनिक सड़क बनाने का सपना दिखाया जा रहा है। सड़क पर एक भी बिजली का खंबा नहीं होगा। विद्युत व्यवस्था को अंडरग्राउंड किया जाएगा। नगरीय विकास विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे ने इसमें कई बदलाव के निर्देश दिए थे। इसलिए प्रोजेक्ट में कई बार बदलाव किया जा चुका है। तीन बार इसके टेंडर आमंत्रित किए जा चुके हैं।

जयति सिंह ने हाल ही में स्मार्ट सिटी के सीईओ का पदभार संभाला है। इसलिए वे प्रत्येक प्रोजेक्ट का अध्ययन कर रही हैं। वे कार्यस्थल पर जाकर मौका मुआयना भी कर रही हैं। इसलिए शुक्रवार को वे सड़क प्रोजेक्ट का मुआयना करने पहुंची। स्मार्ट सिटी के कार्यपालन यंत्री व प्रोजेक्ट प्रभारी बलबीर सिंह सिकरवार, पीडीएमसी के कंसलटेंट गनबीर सिंह व अन्य इंजीनियर मौजूद थे।