पाँच करोड़ से अधिक टर्नओवर वाले…

व्यापारियों के लिए 3बी रिटर्न की समय-सीमा बढ़ाई जाए : चेम्बर


ग्वालियर । जीएसटी के अन्तर्गत, पाँच करोड़ से अधिक का टर्नओवर करने वाले व्यापारियों को मासिक 3बी रिटर्न दाखिल करने की अवधि को 24 जून,2020 किए जाने की माँग चेम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा केन्द्रीय वित्तमंत्री-माननीया निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर की गई है ।

अध्यक्ष-विजय गोयल, संयुक्त अध्यक्ष-प्रशांत गंगवाल, उपाध्यक्ष-पारस जैन, मानसेवी सचिव-डॉ. प्रवीण अग्रवाल, मानसेवी संयुक्त सचिव-ब्रजेश गोयल एवं कोषाध्यक्ष-वसंत अग्रवाल ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में अवगत कराया है कि चेम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा आज केन्द्रीय वित्तमंत्री-माननीया निर्मला सीतारमण जी को ई-मेल के माध्यम से प्रेषित किए गए पत्र में उल्लेख किया गया है कि मार्च,2020 का मासिक 3बी रिटर्न दिनांक 20 अप्रैल,2020 तक जमा करना था, परन्तु केन्द्र सरकार द्वारा सम्पूर्ण देश में कोविड-19 की महामारी को देखते हुए इसको जमा करने के लिए ब्याज में 9% की छूट के साथ 15 दिवस, यानि कि दिनांक 05 मई,20 तक व्यवसाई 3बी रिटर्न दाखिल कर सकते थे, परन्तु केन्द्र सरकार द्वारा पुनः सम्पूर्ण देश में लॉकडाउन की अवधि को दिनांक 15 अप्रैल,20 से 03 मई,20 तक बढ़ाए जाने की घोषणा की गई ।

 इसी के साथ केन्द्र सरकार द्वारा एक बार पुनः दिनांक 04 मई से 17 मई,20 तक लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने की घोषणा की गई है । सम्पूर्ण देश में लॉकडाउन की अवधि दि. 17 मई,20 तक किए जाने से देश का व्यवसाई वर्ग अपना कारोबार बंद करके, घर में बैठा हुआ है । व्यापार पूरी तरह से ठप्प है, व्यवसाईयों की आर्थिक गतिविधियाँ पूर्णतः बंद हैं । ऐसी स्थिति में जीएसटी के अन्तर्गत, पाँच करोड़ से अधिक टर्नओवर करने वाले व्यवसाईयों को 3बी की मासिक रिटर्न दाखिल करने की छूट जो कि पूर्व में दिनांक 05 मई,20 की गई थी, इसे बढ़ाकर दि. 24 जून,20 तक की जाए ।

क्योंकि व्यवसायिक गतिविधियाँ ठप्प होने से न तो एकाउन्टेंट ही  अपने काम पर आ पा रहे हैं और न कर सलाहकार अपने ऑफिस में बैठ रहे हैं । इन परिस्थितियों में व्यवसाईयों द्वारा कर की गणना कर पाना भी संभव नहीं है । पत्र में माँग की गई है कि व्यापारिक हितों को ध्यान में रखते हुए, जीएसटी के अन्तर्गत, पाँच करोड़ से अधिक का टर्नओवर करने वाले व्यवसाईयों के 3बी मासिक रिटर्न दाखिल करने की तिथि को बढ़ाकर दिनांक 30 जून,2020 की जाए, ताकि देशभर के व्यवसाई लॉकडाउन अवधि समाप्त होने के पश्चात् अपना 3बी रिटर्न आसानी से फाइल कर सकें ।