लॉक डाउन की स्थिति को देखते हुए…

ग्राम पंचायतों में कोई भी व्यक्ति भूखा न रहें : कलेक्टर मुरैना


मुरैना। कलेक्टर प्रियंका दास ने बताया कि समस्त सचिव एवं सरपंच तथा रोजगार सहायक ध्यान दें कोरोना वायरस के संक्रमण एवं लॉक डाउन की स्थिति को देखते हुए सोशल डिस्टेंस बनाए रखने हेतु तथा ग्राम पंचायतों में कोई भी व्यक्ति किसी भी समय भूखा ना रहे, इन परिस्थितियों से निपटने जिला पंचायत सीईओ तरूण भटनागर मुरैना द्वारा निर्देश दिए गए हैं इनका शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित हो।

प्रत्येक ग्राम पंचायत सचिव अपनी ग्राम पंचायत में एक कमरा सुरक्षित स्थान पर किराए से ले, उस कमरे में 2 क्विंटल आटा, 2 क्विंटल चावल, 50 किलो दाल तथा नमक पर्याप्त मात्रा में तेल, हल्दी, धनिया, सूखी काली मिर्च का भंडारण रखें, जिस व्यक्ति को खाद्यान्न की आवश्यकता है उसको रजिस्टर संधारण करते हुए उपलब्ध करायें। दो ग्राम पंचायतों में  महिलाओं को सेनेटरी, नैपकिन मास्क सभी को साबुन हाथ धोने हेतु बांटा जाना सुनिश्चित करें। प्रत्येक पंचायत में साफ-सफाई कराते हुए नालियों पर एवं अन्य आवश्यक जगहों पर केमिकल का छिड़काव कराएं। 

यह कार्य प्राथमिकता बतौर किया जाना है। प्रति दिवस सचिव एवं रोजगार सहायक पंचायत में भ्रमण करें तथा प्रतिकूल परिस्थिति होने पर स्वयं जिम्मेदार होंगे। किसी भी स्थिति में मेरे व्हाट्सएप नंबर पर मुझे फोन करें। ग्राम पंचायत बमरौली, ग्राम पंचायत रामपुर कला, ग्राम पंचायत जलालगढ़ ग्राम पंचायत रोजगार खालसा के नवरावली ग्राम में पेयजल परिवहन आज से ही सचिव प्रारंभ कराएं।

ध्यान रखें कि अत्यावश्यक जगह पर ही पेयजल परिवहन कराया जाना है। पेयजल वितरण करते समय सोशल डिस्टेंस का पालन किया जाना सुनिश्चित करें, पेयजल परिवहन का 30 अप्रैल को सुबह 11 बजे तक वह राशि के बिल वाउचर मेरे समक्ष प्रस्तुत करें। जिससे मैं कलेक्टर को बिल वाउचर भुगतान हेतु प्रेषित कर सकूं।