जय किसान ऋण माफी योजना में...

प्रदेश सरकार किसानो के हर दुख दर्द में आपके साथ : मंत्री श्री यादव


ग्वालियर। प्रदेश के पशुपालन, मछुआ कल्याण, मत्स्य विकास विभाग के मंत्री एवं श्योपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री लाखन सिंह यादव ने कहा है कि प्रदेश सरकार किसानो के हर दुख, दर्द में किसानो के साथ है। प्रदेश सरकार ने जिला प्रशासन के माध्यम से द्वितीय चरण के अंतर्गत श्योपुर तहसील के 2045 किसानो की ऋण राशि रू. 11.03 करोड के कर्जा माफ किये गये है। वे आज श्योपुर जिला मुख्यालय स्थित हैवी मशीनरी टीनशैड पर आयोजित किसान सम्मेलन के समारोह को संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक बाबू जण्डेल, कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल, पुलिस अधीक्षक श्री संपत उपाध्याय, पार्टी पदाधिकारी योगेश जाट, रामलखन हिरनीखेडा, गिर्राज चैधरी, ब्रदीप्रसाद रावत, जनपद अध्यक्ष  दीनदयाल मीणा,  अंशु शुक्ला, श्रीमती दुर्गेश नन्दनी,  धीरज यादव, मो. चीनी कुरैर्शी,  रितेश तोमर,  शकिल कुरैर्शी,  अशोक गर्ग, सिराज दाउदी, स्माइल बेग,  प्रहलाद सेन, अपर कलेक्टर  सुनीलराज नायर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  पीएल कुर्वे, एसडीएम  रूपेश उपाध्याय, उपसंचालक कृषि पी गुजरे, विभागीय अधिकारी पत्रकार, श्योपुर तहसील क्षेत्र के किसान और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि  प्रदेश सरकार किसानों के हित संरक्षण के लिए वचनबद्ध है। शासन द्वारा कृषकों को आर्थिक रूप से मजबूत एवं आत्मनिर्भर बनाने के लिए विभिन्न प्रकार की सहायता प्रदान की जा रही है। जिसमें से जय किसान फसल ऋण माफी योजना एक महत्वपूर्ण कदम है। इस योजना में मुख्यमंत्री जी द्वारा पदभार ग्रहण करने के बाद ऋण माफी योजना में 02 लाख रूपये तक के किसानो के कर्जा माफ करने के लिए निर्णय लिया।

प्रथम चरण के अंतर्गत श्योपुर जिले में 20613 पीए एवं एनपीए के प्रकरण स्वीकृत किये गये। जिसमें से 19070 जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक तथा राष्ट्रीयकृत एवं क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक के 1543 प्रकरण स्वीकृत किये गये। इसी प्रकार 20591 कृषको के ऋण खातों में राशि 46.53 करोड का भुगतान किया गया। जिसमें जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक 19048 किसानो के 38.39 करोड तथा राष्ट्रीयकृत एवं क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक के 1543 राशि रू. 8.13 करोड रूपये का भुगतान किया गया। उन्होने कहा कि मप्र के किसानो को बोनस दिलाने के लिए प्रयास किये जावेगे।

उन्होने कहा कि पशु पालन विभाग के माध्यम से प्रथम फेस में 01 हजार गौशाला बनाने का कार्य किया है। द्वितीय चरण के अंतर्गत 03 हजार गौशाला खोली जावेंगी। उन्होने कहा कि श्योपुर जिले में तीन गौशाला नागदा, बरगवा, पर्तवाडा खोली गई है। इन गौशालाओं का निरीक्षण कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल एवं सीईओ जिला पंचायत श्योपुर द्वारा किया जावे। साथ ही गौशालाओं के कार्य की मॉनीटरिंग की जावे। अनियमितता पाये जाने पर दोषी अधिकारी/कर्मचारी के विरूद्ध कार्यवाही की जावे।

क्षेत्रीय विधायक बाबू जण्डेल किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार किसानो की भलाई की दिशा में कार्य कर रही है। साथ ही जय किसान ऋण माफी योजना के अंतर्गत प्रथम एवं द्वितीय फेस में 02 लाख रूपये तक के ऋण माफ किये गये है। उन्होने कहा कि गेहू की बोनस राशि दिलाने के लिए प्रयास किये जा रहे है।

कलेक्टर श्योपुर श्रीमती प्रतिभा पाल ने किसान सम्मेलन के समारोह में अवगत कराया कि इस सम्मेलन में किसान बंधु पहुँचे है। साथ ही मप्र डे-ग्रामीण आजीविका मिशन की दीदी भी आई है। जिनका स्वागत करती हूं। उन्होने कहा कि जय किसान ऋण माफी योजना में वर्ष 2007 के दौरान किसानो के लॉन लिये थे। जिनके कर्जा माफ प्रथम एवं द्वितीय फेस में किये गये है। जिसके अतंर्गत किसानो के 02 लाख रूपये तक के कर्जा माफ किये गये है। उन्होने कहा कि किसानो की खेती की आय को बढाने के लिए प्रयास जारी है। जिसमें किसान उन्नत तकनीकी से अपनी खेती को लाभ का धंधा बनाते हुए प्रगति का मार्ग प्रशस्त कर सकते है। उन्होने कहा कि विभिन्न विभागो के माध्यम से हितग्राहियो को सम्मेलन में लाभान्वित किया गया है।

पशुपालन मंत्री मंत्री लाखन सिंह यादव ने किसान सम्मेलन में श्रीमती गेन्दबाई माली पत्नि प्रभुलाल निवासी न्यू इच्छपुरा, रामकल्याण मीणा पुत्र भैरूलाल मीणा निवासी ढोटी, भनवीर सिंह नायक पुत्र बीरबल सिंह नायक निवासी सोठवा, छोटा मीणा पुत्र लड्डू मीणा निवासी कोटरा, ओमप्रकाश कलार पुत्र नन्दकिशोर कलार निवासी कस्बा श्योपुर, हजारी बंजरा पुत्री मांगीलाल निवासी गुरूनावदा, बाबूलाल जाटव पुत्र कल्याण निवासी सोईकलां सहित 50 किसानों को जय किसान ऋण माफी योजना के अतंर्गत प्रमाण पत्र प्रदान किये।

पशुपालन मंत्री एवं श्योपुर जिले के प्रभारी मंत्री लाखन सिंह यादव ने किसान सम्मेलन में कहा कि जनप्रतिनिधियों एवं किसानो ने श्योपुर प्रवास के दौरान अवगत कराया है कि विधुत वितरण कंपनी ट्रांसफार्मर उतार कर ले जा रही है। उन्होने कहा कि कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल सुनिश्चित करे कि आगामी ढेड माह तक रबी फसलो में पानी की व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए किसी भी किसान का ट्रांसफार्मर नही उठाया जावे। फसल आने पर बिजली बिल की वसूली के लिए अभियान चलाया जावे।

श्योपुर जिले के प्रभारी मंत्री लाखन सिंह यादव ने जिला मुख्यालय पर आयोजित किसान सम्मेलन के दौरान तीन कार्यो का लोकार्पण किया। जिसमें श्री राम स्मृति उपवन (स्वास्थ्य पार्क) 65.47 लाख रूपये की लागत से नगर पालिका श्योपुर द्वारा बनाया गया है। इसी प्रकार 33/11 केव्ही विधुत उपकेन्द्र पहेला का 181.08 लाख रूपये की लागत से लोकार्पण किया। इस उपकेन्द्र को एसटीसी संभाग शिवपुरी द्वारा बनवाया गया है। इसके अलावा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन मानपुर का लोकार्पण किया। यह कार्य पीआईयू श्योपुर द्वारा 131.33 लाख रूपये की लागत से कराया गया है।

 मंत्री श्री लाखन सिंह यादव ने जिला मुख्यालय पर आयोजित किसान सम्मेलन के समारोह में पशु पालन विभाग के अंतर्गत संचालित बकरी ईकाई योजना में तीन हितग्राही चिरोंजीलाल पुत्र श्रीलाल धाकड निवासी खिरखिरी, श्रीमती गायत्री बाई पत्नि राजू जाटव निवासी एवं  जहीर खान पुत्र खुशरूदीन खान ग्राम कनापुर तथा आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना में विष्णु मीणा पुत्र ब्रहानन्द मीणा को लाभान्वित किया।