ग्वालियर में नवीन प्रयोगशाला का कार्य शुरू...

शुद्ध के लिए युद्धश् अभियान में प्रदेश में बेहतर कार्य : श्री अग्रवाल



ग्वालियर 04 जनवरी 2020 एफएसएसएआई ;फूड सेफ्टी एवं स्टेंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडियाद्ध के सीईओ पवन अग्रवाल ने ग्वालियर संभाग के सभी जिलों में खाद्य सुरक्षा से संबंधित बनाए गए प्रकरणों की सेम्पलिंग सहित की गई कार्रवाई की समीक्षा कर आवश्यक दिशा.निर्देश दिए। 

कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में शनिवार को आयोजित बैठक में प्रभारी कलेक्टर शिवम वर्माए अपर कलेक्टर अनूप कुमार सिंहए राज्य स्तरीय नोडल अधिकारी अनिल कुमारए डिप्टी कलेक्टर श्रीमती पुष्पा पुषाम सहित संबंधित अधिकारी तथा व्यापारीगण आदि उपस्थित थे।

सीईओ पवन अग्रवाल ने बैठक में राज्य सरकार द्वारा संचालित श्शुद्ध के लिए युद्धश् की सराहना करते हुए कहा कि इसके सार्थक परिणाम प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सहित ग्वालियर संभाग में इस दिशा में टीम भावना के साथ बेहतर कार्य किया गया है। जिसके लिए स्थानीय प्रशासन बधाई का पात्र है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में संचालित शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत खाद्य पदार्थों में मिलावट को खत्म करना है। इस दिशा में प्रदेश में तेजी के साथ कार्य किया जा रहा है। मिलावटखोरों के विरूद्ध कार्रवाई की गई है।
श्री अग्रवाल ने कहा कि हम सभी का दायित्व है कि भावी पीढ़ी को ध्यान में रखते हुए समाज को श्हैल्थी फूड एवं इन्वारमेंटश् उपलब्ध हो। 

लोगों को शुद्ध गुणवत्तापूर्ण खाद्य पदार्थ प्राप्त होंए जिसमें किसी भी प्रकार का समझौता हो। उन्होंने सलाहकार समितियों की बैठक भी नियमित रूप से आयोजित करने के जिला प्रशासन को निर्देश दिए श्री पवन अग्रवाल ने बताया कि मिलावट को रोकने एवं मिलावटखोरों के विरूद्ध कार्रवाई किए जाने हेतु बड़े स्तर पर नमूने लेकर जांच की जाए और की गई कार्रवाई से जन सामान्य को बताएं।

उन्होंने बताया कि देश में 200 मोबाइल लैब शुरू की जा रही हैं। जिसमें मण्प्रण् की पाँच मोबाइल लैब शामिल हैं। पशुपालकों को सलाह दें कि वह अपने पशुओं को फंगस लगा चारा नहीं खिलायें। इसके खाने से पशुओं के माध्यम से मानव शरीर में विषैला तत्व पहुँच रहा है। जो कई गंभीर बीमारियों को जन्म दे रहा हैए इसे रोकना होगा।

प्रदेश के नोडल अधिकारी अनिल कुमार ने बताया कि प्रदेश में राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई की जा रही है। जिसके तहत अभी तक 106 एफआईआरए 40 एनएसए में कार्रवाई की गई है। 

उन्होंने बताया कि 23 करोड़ की सिंथेटिक खाद्य सामग्री जब्त की गई है।  अनिल कुमार ने बताया कि प्रदेश में 1776 मिल्क प्रोडक्ट मिलावट के प्रकरण बनाए गए हैं जिसमें 1453 दूध केए 582 मावा प्रकरण और 502 पनीर के प्रकरण शामिल है। उन्होंने बताया कि 4ण्5 करोड़ का जुर्माना कर 57 लाख की राशि वसूल की जा चुकी है।

उन्होंने बताया कि ग्वालियरए इंदौर एवं जबलपुर में नवीन प्रयोगशाला खोलने हेतु भूमि का चयन कर कार्य शुरू हो गया है। जबकि सागर एवं उज्जैन में बेसिक लैब शुरू की गई हैं। श्री अरविंद कुमार ने बताया कि खाद्य सुरक्षा के प्रति लोगों को विभिन्न माध्यमों एवं चलित प्रयोगशालाओं से जागरूक किया जा रहा है। प्रभारी कलेक्टर शिवम वर्मा ने शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत जिले में की गई कार्रवाई से अवगत कराया