गृह मंत्री अमित शाह की सुरक्षा में चूक ! 

खुद को आंध्र प्रदेश के सांसद का पीए बता शाह के नजदीक पहुंचने का कर रहा था प्रयास 

गृह मंत्री अमित शाह के सोमवार को मुंबई दौरे के दौरान सुरक्षा में बड़ी चूक का मामला सामने आया है।  मुंबई में एक शख्स घंटों उनके आसपास घूमता रहा। उसने खुद को आंध्र प्रदेश के एक सांसद का पीए बताया था। मामले में मुंबई पुलिस ने महाराष्ट्र के धुले जिले के हेमंत पवार को गिरफ्तार किया है। उसके पास गृह मंत्रालय का परिचय पत्र था। वह महाराष्ट्र के सीएम व डिप्टी सीएम के आवास के बाहर भी नजर आया था। आरोपी हेमंत पवार को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने उसे पांच दिन की पुलिस हिरासत में सौंपा है। 

अमित शाह दो दिनी मुंबई यात्रा के दौरान सोमवार को ‘लालबागचा के राजा‘ के दर्शन करने गए थे। इसी दौरान पवार पर गृह मंत्रालय के एक अधिकारी की नजर पड़ी तो उसने मुंबई पुलिस को इसकी जानकारी दी। इस पर आरोपी को तुरंत गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी को गिरगांव कोर्ट ने पांच दिन की हिरासत में पुलिस को सौंप दिया। पवार से पूछताछ जारी है। 

इसी साल फरवरी में एनएसए अजीत डोभाल के आवास पर भी सुरक्षा में चूक का मामला सामने आया था। इस मामले में सीआईएसएफ ने सख्त कार्रवाई की है। इस घटना के बाद पिछले माह तीन सीआईएसएफ कमांडो को बर्खास्त किया गया है। एक डीआईजी और एक कमांडेंट रैंक के अधिकारी का तबादला कर दिया गया है। डोभाल को केंद्रीय वीआईपी सुरक्षा सूची के तहत जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है। उन्हें सुरक्षा कवर सीआईएसएफ की एसएसजी यूनिट द्वारा दिया गया है। 16 फरवरी को सुरक्षा में चूक की घटना की केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल ने कोर्ट ऑफ इंक्वायरी गठित की थी। इसमें पांच अधिकारियों को दोषी ठहराया गया और इनके खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की गई थी। 

16 फरवरी को सुबह करीब साढ़े सात बजे बेंगलुरु के एक व्यक्ति ने सेंट्र्ल दिल्ली में डोभाल के उच्च सुरक्षा वाले घर में अपनी कार घुसाने का प्रयास किया था। बर्खास्त किए गए तीनों कमांडो उस दिन सुरक्षा व्यवस्था के तहत एनएसए के आवास पर मौजूद थे। उस व्यक्ति को आवास के बाहर रोक दिया गया था और दिल्ली पुलिस को सौंप दिया गया था।