देश के साथ राज्य में लंपी वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए …

चीता इवेंट'' से बाहर निकल कर गौमाता की सुध ले सरकार : कमलनाथ

ग्वालियर l देश के साथ राज्य में लंपी वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकार को आड़े हाथो लिया है। मध्य प्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में लाए गए चीतों को पार्क में छोड़ने को इवेंट बताते हुए कमलनाथ ने कहा कि सरकार को अब गायों की भी सुध लेनी चाहिए। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकार पर लंपी वायरस को लेकर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि सरकार अगर 'चीता इवेंट' से बाहर निकल आई हो तो अब गौमाता की भी सुध लें।कमलनाथ ने अपने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि मध्यप्रदेश में लंपी वायरस का प्रकोप दिन- प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। प्रदेश के कई हिस्सों में गौमाता बड़ी संख्या में इस वायरस से संक्रमित होती जा रही हैं, बड़ी संख्या में उनकी मौत भी हो रही है। जिसको लेकर सरकार के प्रति कमलनाथ ने नाराजगी जाहिर करते हुए ट्वीट किया।

गौरतलब है कि पिछले दिनों नमीबिया से लाए गए चीतों को श्योपुर के कूनो नेशनल पार्क में छोड़ा गया था। इस मौके पर शिवराज सिंह चौहान के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे। चीतों को पार्क में छोड़े जाने को लेकर किए गए इंतजाम पर कमलनाथ ने अपनी नाराजगी जाहिर की और राज्य सरकार से उचित कदम उठाने की बात कहीउन्होंने आरोप लगाया, 'समय रहते जो आवश्यक कदम सरकार को उठाना थे, वह उन्होंने अभी तक उठाये नहीं है। सरकार तो पिछले कई दिनों से "चीता इवेंट" में ही लगी रही, अभी यदि वो चीता इवेंट से बाहर निकल गई है तो उसे प्रदेश में गौ माता की सुध लेना चाहिए। प्रतिदिन इस वायरस से गौमाता की तड़प-तड़प कर हो रही मौत की तस्वीरें सामने आ रही हैं।' उन्होंने सरकार से मांग की कि इस संबंध में तत्काल सभी आवश्यक कदम उठाये जाएं।