रिटायर्ड पुलिस अधिकारी ने अपने ...

माता-पिता के सम्मान में बनाया मंदिर 


मदुरै। माता-पिता अपने बच्चों के लिए भगवान होते हैं। हमने अक्सर इस बात को अपने बुजुर्गों से सुना है। लेकिन तमिलनाडु के मदुरै में एक शख्स ने तो कमाल कर दिया है। उन्होंने अपने माता-पिता को भगवान का दर्जा देते हुए उनका मंदिर बनाया है। मदुरै में रिटायर्ड पुलिस अधिकारी रमेश बाबू ने मां और पिता के सम्मान में एक मंदिर बनाया, जिसमें उनकी मूर्तियां भी स्थापित की गई हैं। रमेश बाबू रिटायर्ड SI हैं। उन्होंने बताया कि वह अपने माता-पिता के लिए एक मंदिर बनाना चाहते थे लेकिन काम में व्यस्त होने के कारण नहीं बना सके। इसलिए मैंने रिटायरमेंट के बाद उन्होंने इसे बनाया।

रमेश बाबू बताते हैं कि वो प्रतिदिन इस मंदिर में अपने माता-पिता की पूजा करते हैं। इस मंदिर के निर्माण के बाद मेरे माता-पिता की मृत्यु हो गई थी, लेकिन वे हमेशा मेरे साथ हैं। हरदोई के एक गांव में भी सरकारी कर्मचारी ने बनवाया था मंदिर इससे पहले यूपी के हरदोई जिले के अंतर्गत आने वाले पाली के एक गांव अतरजी में एक सरकारी कर्मचारी ने रिटायरमेंट के बाद अपने माता-पिता के सम्मान में मंदिर बनवाया था और उनकी मूर्तियां मंदिर में स्थापित की थीं। पेशे से लेखपाल रहे वीरेंद्र दीक्षित जब रिटायर हो गए तो उन्होंने अपने गांव अतरजी में एक भव्य मंदिर का निर्माण करवाया। इस मंदिर में उन्होंने अपने‌ दिवंगत माता-पिता की मूर्ति स्थापित करवाई और उनकी पूजा करने लगे।