चंडीगड़ यूनिवर्सिटी के MMS कांड ....

बेटियों संयम से काम लो, पीड़ित बेटियां हिम्मत रखें. हम सब आपके साथ हैं  : केजरीवाल 

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में हुए एमएमएस कांड से पूरे देश में गुस्से का माहौल है l गर्ल्स हॉस्टल की ही एक लड़की पर दूसरी लड़कियों के नहाते वक्त का वीडियो बनाने का आरोप है lआरोप है इस लड़की ने कई लड़कियों के आपत्तिजनक वीडियो बनाए और अपने एक दोस्त को शेयर कर दिए l जैसे ही इस बात का खुलासा हुआ तो विश्वविद्यालय में हंगामा शुरू हो गया l कथित आपत्तिजनक वायरल वीडियो का मामला अब गरमा गया है l छात्राओं के एमएमएस स्कैंडल की घटना को लेकर स्टूडेंट्स ने मोहाली में चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के बाहर विरोध प्रदर्शन किया l 

मोहाली में चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में रात 2 बजे से उस वक्त हंगामा शुरू हो गया जब पता चला कि हॉस्टल की 5 से 6 छात्राओं का नहाते वक्त का वीडियो बनाकर वायरल किया गया है. बताया गया कि लड़की ने वीडियो बनाकर अपने जान पहचान वाले लड़के के पास भेज दिया. इस मामले पर यूनिवर्सिटी के छात्रों ने विश्वविद्यालय परिसर में जमकर हंगामा किया l वीडियो सामने आने के बाद छात्राएं हॉस्टल से बाहर आ गईं. उन्होंने ‘वी वान्ट जस्टिस’ के नारे लगाए और यूनिवर्सिटी को घेर लिया l पुलिस को बुलाया गया l पुलिस ने छात्राओं को शांत करने की कोशिश की तो उन्होंने पुलिस की पीसीआर टीमों की गाड़ियां पलट दीं l पुलिस को प्रदर्शनकारी छात्रों को शांत करने के लिए लाठीचार्ज भी करना पड़ा l परिसर में बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है l

हालांकि यूनिवर्सिटी की तरफ से पहले ही साफ हो चुका है कि छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो शूट किए जाने की अफवाहें पूरी तरह से निराधार और गलत हैं. क्योंकि अभी तक किसी भी छात्रा का कोई वीडियो नहीं पाया गया है. वहीं पुलिस ने इस मामले में एक छात्रा को एफआईआर दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है l चांसलर डॉ आर.एस बावा ने कहा कि सोशल मीडिया पर खबरें फैलाई जा रही हैं कि चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के 7 विद्यार्थियों ने आत्महत्या की है l मैं यह स्पष्ट करता हूं कि में ऐसी कोई घटना नहीं हुई है, इस वक्त CU का कोई बच्चा इस संदर्भ में किसी अस्पताल में नहीं है और न कोई सेहत की समस्या है l प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आरोपित लड़की ने अपनी कुछ वीडियो और फोटो अपने प्रेमी को भेजी है l इसके अलावा उसके मोबाइल से कुछ नहीं मिला, इसके बाद भी हमने पुलिस को मामला दिया है l हमने मामले में FIR दर्ज कराई है, बच्चे और माता-पिता किसी भी अफवाह पर यकीन न करें l इसके अलावा इस मामले को लेकर मोहाली के एसएसपी विवेक शील सोनी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि वायरल वीडियो के अलावा और भी कुछ वीडियो बनाए गए हैं l हालांकि ये बात सरासर गलत है, हमारी जांच में ऐसा कोई दूसरा वीडियो सामने नहीं आया है l वहीं मोहाली की ADGP कम्युनिटी अफेयर्स डिवीजन गुरप्रीत देव ने बताया कि शिमला का लड़का, लड़की को जानता है l जब लड़के को गिरफ़्तार किया जाएगा और फोन की फोरेंसिक जांच होगी तब सब कुछ साफ हो जाएगा l फोरेंसिक से डीलीट की गई वीडियो भी सामने आने की संभावना है l

राज्य महिला अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने सख्ती दिखाते हुए कहा कि मामले में झूठ फैलाया गया कि कुछ बच्चियों ने आत्महत्या कर ली है. ये सब अफवाह है, न किसी बच्ची ने आत्महत्या की और न ही कोई अस्पताल में है. राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा, “अगर ये सब पहले से चल रहा था तो मैं आपको आश्वासन देती हूं कि ये गहन जांच का विषय है और इस मामले पर मेरी नजर रहेगी.”

-राज्य महिला आयोग अध्यक्ष मनीषा गुलाटी

भगवंत मान ने ट्वीट किया- चंडीगढ़ विश्वविद्यालय की दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बारे में सुनकर दुख हुआ. हमारी बेटियां सम्मान हैं. घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं और जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. सीएम ने कहा- मैं प्रशासन के संपर्क में हूं और सभी से अफवाहों से बचने की अपील करता हूं  l

-सीएम भगवंत मान 

इस मामले पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया- चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में एक लड़की ने कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड करके वायरल किए हैं. ये बेहद संगीन और शर्मनाक है. इसमें शामिल सभी दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी. पीड़ित बेटियां हिम्मत रखें. हम सब आपके साथ हैं. सभी संयम से काम लें  l

- अरविंद केजरीवाल 

इस मामले में अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है. आयोग ने पंजाब पुलिस महानिदेशक (DGP) को चिट्ठी लिखकर इस मामले में दोषियों के खिलाफ तेज और सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही राष्ट्रीय महिला आयोग ने चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर से भी कहा कि वह इस मामले में दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करें  l

-राष्ट्रीय महिला आयोग ने लिया संज्ञान