बाबा महाकाल मंदिर में हुआ विवाद...

मध्य प्रदेश में BJP ने अपने ही कार्यकर्ताओं को भेजा नोटिस !

भोपाल। मध्य प्रदेश में बीजेपी BJP ने अपने 1 दर्जन से ज्यादा कार्यकर्ताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। पार्टी ने इन सभी कार्यकर्ताओं को प्रदेश कार्यालय में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने के निर्देश दिया है। बीजेपी के ये सभी कार्यकर्ता भाजपा युवा मोर्चा से जुड़े हैं। वहीं कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी ने अपने जिन कार्यकर्ताओं को नोटिस दिया है उनके खिलाफ तत्काल नामजद प्रकरण दर्ज होना चाहिए। दरअसल, पूरा मामला कल बाबा महाकाल मंदिर में हुए विवाद से जुड़ा हुआ है। बीजेपी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या कल उज्जैन के प्रसिद्ध बाबा महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे थे। इस दौरान बीजेपी के कई कार्यकर्ताओं का मंदिर मं  पुलिसकर्मियों से विवाद हो गया था। 

जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। बताया जा रहा है कि इस घटनाक्रम में जिला उज्जैन नगर व उज्जैन ग्रामीण से जो बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ता शामिल थे, उन सभी को बीजेपी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। बीजेपी युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष वैभव पवार ने बीजेपी के कार्यकर्ताओं को भेजे गए नोटिस में कहा लिखा गया है कि सभी कार्यकर्ताओं भोपाल प्रदेश कार्यालय में उपस्थित होकर घटनाक्रम के बारे में स्पष्ट रूप से अपना पक्ष बताने के निर्देश दिए गए हैं। क्योंकि यह घटनाक्रम घोर अनुशासनहीनता की परिधी में आता है, अन्यथा क्यों न आपके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायें। उन्होंने कल वायरल हुए वीडियो का जिक्र भी किया है। वहीं इस मामले में कांग्रेस ने बीजेपी के इन 18 लोगों पर प्रशासन से तत्काल नामजद प्रकरण दर्ज करने की मांग की है। कांग्रेस ने बीजेपी पर धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने और नियमों को तोड़ने का आरोप लगाया है। 

कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट कर लिखा महाकाल मंदिर के नंदी हाल में भाजयुमों कार्यकर्ताओं ने सुरक्षा कर्मियों से विवाद कर जबरदस्ती प्रवेश किया, इस सच्चाई को खुद भाजयुमो ने मान अपने 18 कार्यकर्ताओं को कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया। पता नहीं प्रशासन किस दबाव में विवाद की सच्चाई को स्वीकार क्यों नहीं रहा है ?।'' बता दें कि कल बीजेपी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या उज्जैन पहुंचे थे, जहां उन्होंने बाबा महाकाल मंदिर में जाकर दर्शन किए, इस दौरान उनके साथ बीजेपी के बहुत से कार्यकर्ता भी मंदिर में पहुंच गए, जहां गर्भगृह में जाने को लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं का पुलिसकर्मियों और सुरक्षाकर्मियों से विवाद हो गया। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।