दिल्ली से 2000 जिंदा कारतूस बरामद, सप्लायर गिरफ्तार…

15 अगस्त से पहले बड़ी साजिश नाकाम !

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 15 अगस्त से ठीक पहले 2 हजार जिंदा कारतूस बरामद किया गया है। इसके साथ ही, दिल्ली में कारतूस की सप्लाई करने वाले 6 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है। पूर्वी दिल्ली पुलिस ने आनंद विहार इलाके से 2 बैग के साथ सप्लायर को गिरफ्तार किया है। पुलिस की तरफ से अब इन आरपियों से पूछताछ की जा रही है कि ये लोग इन 2 हजार कारतूस को कहां पर सप्लाई करने जा रहे थे। इसके साथ ही, इनका कहां पर इस्तेमाल होना था। दिल्ली पुलिस 15 अगस्त को लेकर हाई अलर्ट पर है। पूरी दिल्ली समेत लालकिले पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। 

इस बीच पुलिस को जानकारी मिली की आनंद विहार इलाके में दो संदिग्ध है जिसके पास हथियार हो सकता है। सूचना के आधार पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर संदिग्ध की तलाशी ली तो उसके पास से दो बैग बरामद हुए जिसमें 2000 जिंदा कारतूस थे। इसके बाद पुलिस ने जब इनसे पूछताछ की तो इनके और अन्य साथियों को भी गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल इन सभी से पूछताछ की जा रही है। इस बार पूरा देश आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है। इस खुशी के माहौल में किसी प्रकार की बाधा न पहुंचे इसके लिए सुरक्षा के भी इंजताम किये जा रहे हैं। 15 अगस्त पर इस बार लाल किले की सुरक्षा में 10 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा। पूरी दिल्ली को 15 अगस्त से पहले ही अलर्ट पर रखा गया है। दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा खुद विभिन्न खुफिया एजेंसियों और सुरक्षा प्रतिष्ठानों के प्रमुखों के साथ सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं। 

उनकी पूरी कोशिश है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा व्यवस्था में किसी प्रकार की चूक न हो। खुफिया एजेंसियों ने स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर अलर्ट जारी किया है। एजेंसियों की मानें तो आतंकी सगंठन दिल्ली को दहलाने की साजिश रच सकेत हैं। 15 अगस्त को लेकर IB ने दिल्ली पुलिस को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। 10 पन्नों की रिपोर्ट में इंटेलिजेंस ब्यूरो ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा, जैश के आतंकी साजिश रचने की दी जानकारी दी गई है। 10 पन्नों की रिपोर्ट में कहा गया है कि आईएसआई इन्हें लॉजिस्टिक मदद देकर धमाके कराना चाहता है। इसमें कई नेताओं सहित बड़े संस्थानों की इमारतों को निशाना बनाया जा सकता है।