हिंदी, अंग्रेजी नहीं आती दुभाषिये की मदद से पुलिस कर रही पूछताछ…

विदिशा के सिरोंज में पुलिस ने विदेशी संदिग्धों को पकड़ा, ईरानी पासपोर्ट और टूरिस्टद वीजा बरामद

विदिशा। जिले के सिरोंज कस्बेो में पुलिस ने दो विदेशी संदिग्धों को हिरासत में लिया है। दोनों के पास से ईरान का पासपोर्ट और भारत का टूरिस्ट वीसा मिला है जिससे ये पता चला है कि दोनों पति पत्नी हैं और ईरान के ही रहने वाले हैं। दोनों से पूछताछ चल रही, पुलिस दूतावास से भी जानकारी ले रही है। पुलिस ने बताया कि सोमवार रात थाना सिरोंज में ये दोनों विदेशी एक ज्वेलर्स की दुकान में खरीदारी करने गए थे यहां दोनों का दुकानदार से विवाद हो गया। विदेशी लोगों को देखकर वहां भीड़ जमा हो गई। किसी ने पुलिस को सूचना कर दी। 

दुकानदार ने आरोप लगाया कि दोनों विदेशी खरीदारी के बहाने पैसे चुराने की घटना को अंजाम देने की कोशिश कर रहे थे। पुलिस उन्हें थाने लेकर आई जहां उनके पास ईरानी पासपोर्ट, भारत के टूरिस्ट प्लेस की एक सूची और वीसा मिला है, जिसमे ट्रैवल वीसा पर भारत आना बताया। उनके द्वारा केवल फ़ारसी भाषा में बोलने के कारण दुभाषिये की सहायता से पूछताछ की जा रही है। एसपी मोनिका शुक्ला ने बताया कि टीम गठित कर दोनों से पूछताछ की जा रही है, साथ ही ईरान दूतावास और इमीग्रेशन डिपार्टमेंट को भी इसकी सूचना देकर उन व्यक्तियों के द्वारा दी गयी जानकारी को वेरिफाई किया जा रहा है। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी इसकी पुष्टिं करते हुए बताया कि दोनों के पास से ईरान के अल बुर्ज का पासपोर्ट, और अमेरिका, ईरान समेत अन्यइ देश की करंसी मिली है। उनकी उम्र करीब 50 वर्ष है। जिस टैक्सी से वे आये थे उसके ड्राइवर का मोबाइल नंबर बन्द आ रहा है, उसकी भी जांच कराई जा रही है। 

सूत्रों ने बताया कि दोनों विदेशी करीब एक माह पहले दिल्ली आए थे। यहां एक दिन किसी होटल में रुककर भारत के टूरिस्ट प्लेस घूमने निकल गए। एक टैक्सी से वे आगरा भी गए1 वहां से टैक्सी वाला सिरोंज लेकर आ गया जहां दोनों एक ज्वेलरी शॉप में खरीदारी करने चले गए। हिंदी भाषा की जानकारी नहीं होने से दुकान में विवाद की स्थिति बनी। बताया जा रहा है कि टैक्सी चालक सामान सहित वहां से भाग निकला है। हालांकि पुलिस इन बातों की सच्चाई भी जानने की कोशिश कर रही है। दोनों को सिरोंज से विदिशा लाया गया है।