ऊर्जा विकास निगम द्वारा ऊर्जा संरक्षण को लेकर हुआ कार्यक्रम…

ऊर्जा के स्रोत सीमित हैं और हमें उनका उपयोग बहुत ही सोच समझकर करना है : श्री दंडोतिया

ग्वालियर। ऊर्जा विकास निगम के द्वारा, ग्राम रसीदपुर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष गिर्राज दंडोतिया उपस्थित रहे। श्री दंडोतिया ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ऊर्जा के जो स्रोत है वह बहुत ही सीमित हैं और हमें उन ऊर्जा के स्रोतों का बहुत ही सोच समझकर उपयोग करना है। 

ऊर्जा का अपव्यय करने से हमें रोकना होगा। इसके लिए मध्यप्रदेश में ऊर्जा के नए विकल्प तलाशे जा रहे हैं और उसके लिए कार्य किया जा रहा है हमें ऊर्जा के नए साधन खोजने भी होंगे और ऊर्जा को अपव्यय होने से बचाना भी होगा। इस हेतु ऊर्जा विकास निगम कार्य कर रहा है और आने वाले समय में, हम आत्मनिर्भर ऊर्जा का लक्ष्य हासिल करके रहेंगे। 

कार्यक्रम का प्रारंभ दीप प्रज्वलन व सरस्वती वंदना से किया गया। सरस्वती आराधना गीत  मॉर्निंग स्टार स्कूल के बच्चों द्वारा प्रस्तुत किया गया। तत्पश्चात ऊर्जा संरक्षण के विषय पर एक नाटिका प्रस्तुत की गई जिसे रेडियंट स्कूल के बच्चों ने प्रस्तुत किया। 

कार्यक्रम में संजय थोरात कार्यपालन यंत्री, दिनेश सुखीजा अधीक्षण यंत्री MPEB, संदीप शाक्य उप महाप्रबंधक एमपीईवी, रमेश शर्मा जी ऊर्जा विकास निगम व बिजली विभाग के अधिकारी सम्मिलित हुए। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में ग्रामवासी एवं बच्चे उपस्थित रहे। कार्यक्रम समापन के पूर्व,  हरियाली अमावस्या के उपलक्ष में, मुख्य अतिथि द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया। कार्यक्रम का संचालन आशीष पांडे ने किया।