यूपी में अब तक कुल 227 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है…

हिंसक प्रदर्शन के बाद पुलिस सख्त, कई शहरों में उपद्रवियों की पहचान कर किया गिरफ्तार

पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ दिए गए बयान के विरोध में कल जुमे की नमाज के बाद बीजेपी की निलंबित नेता नुपूर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल के विरोध में देश के कई शहरों में मुस्लिम समुदाय ने प्रदर्शन किया। इस दौरान कई जगह प्रदर्शन हिंसक भी हो गया। पथराव की घटनाएं सामने आईं। कहीं पुलिस ने तितर—बितर करने के लिए बलप्रयोग किया। दिल्ली की जामा मस्जिद, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर, हैदराबाद, प्रयागराज, मुरादाबाद, लखनऊ और पश्चिम बंगाल के हावड़ा में मुसलमानों ने जुम्मे की नमाज के बाद विरोध-प्रदर्शन किया। यूपी में अब तक 227 लोगों को कल हुई हिंसा के मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है। इनमें प्रयागराज से 68, सहारनपुर से 48, हाथरस से 50, मुरादाबाद से 25 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं फिरोजाबाद से 8, अम्बेडकर नगर से 28 लोगों की अब तक गिरफ्तारियां हुई हैं। सूत्रों के अनुसार हाथरस के पुरदिल नगर में कल हुए हंगामे में करीब 150 से लोगों के खिलाफ हुआ मुकदमा दर्ज किया गया है। 

अभी तक 50 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए मौके पर तीन थानों की फोर्स लगी हुई है। फिलहाल माहौल शांतिपूर्ण है। प्रयागराज के खुल्दाबाद के अटाला में बवाल और उपद्रव के मामले में एफआईआर दर्ज हुई हैं। करेली और खुल्दाबाद थाने में 36 नामजद और 1 हज़ार अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। 68 लोगों को अब तक गिरफ्तार किया गया है। कल हुए बवाल में पत्थरबाजी की इस घटना में करीब आठ पुलिस कर्मी घायल हुए थे। उपद्रव करने वालों ने एक दर्जन पब्लिक वाहनों में तोड़फोड़ की। साथ ही एक ट्रक में आग लगा दी थी। मुरादाबाद में शुक्रवार को उग्र प्रदर्शन के बाद मुरादाबाद पुलिस के अधिकारियों ने सभी थानों की फोर्स के साथ मुरादाबाद शहर में देर रात गाड़ियों के सायरन और हूटर बजाते हुए पूरे शहर का मार्च किया। इस दौरान मुरादाबाद के एसएसपी समेत तमाम वरिष्ठ अधिकारी भी इस मार्च में शामिल रहे। वहीं पुलिस अधिकारियों की मानें तो शहर में शांति व्यवस्था और जनता को अच्छी कानून व्यवस्था का विश्वास दिलाने के लिए इस मार्च को देर रात पूरे शहर में किया गया है। टाण्डा में कल जुमे की नमाज खत्म होने के बाद भीड़ घर जा चुकी थी। थोड़ी देर बाद अचानक इकठ्ठा हुई भीड़ ने प्रदर्शन शुरू कर दिया। 

पुलिस के रोकने पर भीड़ ने पत्थरबाजी की। पूरा घटनाक्रम एक बड़ी साजिश की तरफ इशारा कर रहा है। अलीगंज थानाक्षेत्र के तलवापार टाण्डा में कल माहौल बिगाड़ने की अराजक तत्वों ने पूरी कोशिश की थी। हालांकि पुलिस पूरे समय मुस्तैद रही और पुलिस की सक्रियता के चलते उपद्रवी अपने मंसूबो में कामयाब नहीं हो पाए थे।  टाण्डा में हुए बवाल में शामिल लोगों में से अब तक 28 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। अन्य की तलाश जारी है। 28 नामजद व अज्ञात 50 से 60 लोगों पर केस  दर्ज हुआ है। तेलंगाना में भी कल हिंसक प्रदर्शन हुए। हैदराबाद की मक्का मस्जिद और अजीजिया मस्जिद के बाहर मुस्लिमों ने प्रदर्शन किया। चार मीनार के पास जामा मस्जिद के बाहर जुमे की नमाज के बाद प्रोटेस्ट हुआ। यहां 10 मिनिट प्रोटेस्ट हुआ और भीड़ चली गई। वहीं अजीजिया मस्जिद के बाहर हैदराबाद यूथ करेज नाम के एक संगठन ने प्रदर्शन किया। पुलिस ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन के लिए 10 मिनट की इजाजत दी थी। लेकिन समय पूरा होने के बाद भी प्रदर्शनकारी हटने को तैयार नहीं हुए, जिसके बाद पुलिस ने संगठन के संस्थापक इमरान को हिरासत में ले लिया और हल्का लाठीचार्ज कर भीड़ को वहां से भगा दिया। 

तेलंगाना के महबूब नगर में भी एक प्रोटेस्ट हुआ जहां तिरंगे का अपमान किया गया। यहां तिरंगे में चक्र की जगह कलमा लिख दिया गया, इस संबंध में महबूब नगर पुलिस ने एक केस दर्ज किया है। BJP की तेलंगाना इकाई ने इस घटना की निंदा करते हुए इसके लिए जिम्मेदार लोगों को अरेस्ट करने की मांग की है। पश्चिम बंगाल में कल हुई हिंसा के बाद 13 जून सुबह 6 बजे तक इंटरनेट बंद कर दिया गया है।  वहीं सूत्रों के अनुसार करीब 10 लोग गिरफ्तार किए गए हैं। कल हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान 12 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। उपद्रवियों ने हिंसा के दौरान कारों में आग लगा दी। डोमजोर थाने पर हमला किया और थाने की गाड़ियों में तोड़फोड़ की। कल की घटना के बाद अभी माहौल शांतिपूर्ण है। बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात किया हुआ है। रांची में भी कल हिंसक प्रदर्शन हुआ। लोग सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करने के दौरान उग्र भी हुए। एक मंदिर पर भी हमले की खबर आई। उपद्रव के दौरान गोली लगने से दो लोग जख्मी हो गए थे, इन दो लोगों की शनिवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक मरने वालों में एक की पहचान मुदस्सिर उर्फ कैफी के रूप में हुई है। 8 घायलों का इलाज रिम्स में चल रहा है।