पटना में राबड़ी देवी के आवास पर भी छापा…

लालू यादव के 17 ठिकानों पर CBI की छापेमारी

चारा घोटाला मामले में हाल ही में जमानत पर जेल से रिहा हुए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें और बढ़ सकती है। भ्रष्टाचार के एक मामले में सीबीआई उनके 17 ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। सीबीआई की टीम पटना में पूर्व सीएम और लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी के आवास पर भी पहुंची है। 

आरोप है कि लालू यादव जब रेल मंत्री थे तब उन्होंने अपने कई जानने वालों को रेलवे में नौकरी दिलाई थी। इसके बदले उनके परिवार वालों को सस्ती दरों पर जमीन मिली थी। सीबीआई को शक है कि इस मामले में संभवत जमीन खरीदने के बदले पैसा भी नहीं दिया गया था। 

सूत्रों ने बताया कि लालू यादव के परिजनों के खाते में एक करोड़ 20 लाख रुपए आए। इसके अलावा दिल्ली, पटना और दानापुर समेत अनेक जगहों पर लालू यादव के परिजनों को जमीन मिली। सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली और बिहार के पटना और गोपालगंज में 17 जगहों पर सीबीआई की टीम छापेमारी कर रही है। लालू यादव इस समय दिल्ली में हैं। 

उनकी बेटी मीसा भारती भी दिल्ली में है। राबड़ी देवी अपने आवास पर ही हैं। लालू साल 2004 से 2009 तक रेल मंत्री रहे थे। सीबीआई की छापेमारी पर आरजेडी नेता और विधायक आलोक मेहता ने कहा कि एक मजबूत आवाज को दबाने की कोशिश हो रही है। सीबीआई की कार्रवाई पूरी तरह से पक्षपाती है।