लगभग 20 लाख रूपये लागत के नए तालाब का किया भूमि-पूजन…

वर्षा जल सहेजने में सभी सहभागी बनें : श्री शेजवलकर

ग्वालियर। सम्पूर्ण प्रदेश के साथ ग्वालियर जिले की सभी ग्राम पंचायत में भी सोमवार को “जल-चौपाल’’ के रूप में ग्राम सभाएँ हुईं। सासंद विवेक नारयण शेजवलकर के मुख्य आतिथ्य में जनपद पंचायत भितरवार के ग्राम निकोड़ी में जल-चौपाल का आयोजन हुआ। साथ ही जलाभिषेक अभियान का शुभारंभ भी किया गया। सांसद श्री शेजवलकर ने इस अवसर पर कहा की वर्षा जल सहेजने एवं भू-जल संवर्धन के उद्देश से सरकार ने जलाभिषेक अभियान शुरू किया है। सरकार एवं समाज के साझा प्रयासों से ही यह पुनीत अभियान सफल होगा। निकोड़ी में आयोजित हुई जल-चौपाल एवं जलाभिषेक अभियान के शुभारंभ कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला पंचायत प्रशास्कीय समिति की अध्यक्षा मनीषा यादव ने की। सांसद श्री शेजवलकर एवं अन्य अतिथियों ने अमृत सरोवर योजना के तहत ग्राम निकोड़ी में मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना) के तहत लगभग 20 लाख रूपये की लागत से बनने जा रहे नवीन तालाब का भूमि-पूजन एवं कलश-पूजन कर विधिवत शुभारंभ किया। सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में रायसेन जिले की गैरतगंज तहसील के ग्राम कहुला में राज्य स्तरीय जल संसद एवं जल अभिषेक अभियान का शुभारंभ हुआ। 

इस अवसर पर मुख्य मंत्री श्री चौहान ने प्रदेश के सभी जिलों के अमृत सरोवरों एवं पुष्कर धरोहर समृद्धि अभियान की जल संरचनाओं का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम को एलईडी स्क्रीन एवं सोशल मीडिया के प्लेटफाँर्म के माध्यम से निकोड़ी सहित ग्वालियर जिले की अन्य ग्राम पंचायतों में आयोजित हुई जन चौपाल में शामिल हुए ग्रामीणों ने देखा। साथ ही मुख्यमंत्री श्री चौहान का उदबोधन भी सुना। कार्यक्रम में जिला पंचायत प्रशासकीय समिति के उपाध्यक्ष शांति शरण गौतम, भाजपा जिला अध्यक्ष ग्रामीण कौशल शर्मा, ग्राम पंचायत के सरपंच होतम सिंह व मोहन सिंह राठौर सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आशीष तिवारी समेत अन्य संबंधित अघिकारी मौजूद थे। सांसद श्री शेजवलकर ने जल-चौपाल को संबोधित करते हुए कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में हर सांसद से अपने-अपने संसदीय क्षेत्र में 75-75 नए तालाब बनवाने के लिए कहा है। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जल संरक्षण एवं संवर्धन के लिए जलाभिषेक अभियान शुरू किया है। सभी इसमें सहभागी बनें। उन्होंने इस अवसर पर ग्राम निकोड़ी से मऊछ तक सड़क की मरम्मत कराने और गाँव की पेयजल व्यवस्था के लिए एक नलकूप खनित कराने का भरोसा ग्रामीणों को दिलाया। 

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आशीष तिवारी ने बताया की ग्वालियर जिले में जलाभिषेक अभियान के मुख्य घटक अमृत सरोवर योजना के तहत 100 नए तालाबों का निर्माण कराया जा रहा है। इसी तरह पुष्पक धरोहर समृद्धि अभियान के तहत 339 पुरानी जल संरचनाओं का जीर्णोद्धार किया जाएगा। हर जलाशय व अन्य जल संरचनाओं के लाभार्थी अर्थात उपयोगकर्ता समूह भी बनाए जा रहे है। तालाबों का उपयोग सिंचाई के साथ-साथ मछली पालन,सिंघाडा उत्पादन एवं अन्य प्रयोजनों में किया जाएगा। इसके आलावा सभी गाँव में एसबीएम एवं आईडब्ल्यूएमपी योजना के तहत बड़ी-बड़ी जल संरचनाएँ बनाई जायेंगीं। नल-जल योजनाओं के जल स्त्रोतों के रीचार्ज का काम भी होगा। जलाभिषेक अभियान के तहत हाथ में ली गई प्रथम चरण की संरचनाएँ आगामी जून माह तक पूरी की जाएँगीं,जिससे इस साल की वर्षा का जल सहेजा जा सके। इस पुनीत अवसर पर गाँव की महिलाओं ने मंगल गान करते हुए पानी की एक-एक बूँद सहेजने के लिए अपने सिर पर कलश रखकर जल यात्रा निकाली। जल यात्रा में जन अभियान परिषद की प्रस्फुटन समितियों के सदस्यगण भी शामिल हुए। इसी प्रकार जिले की अन्य ग्राम पंचायतों में भी जल-चौपाल व जल यात्राओं का आयोजन हुआ।