हम कांग्रेस नहीं छोड़ेंगे लेकिन अगर कोई मुझे बाहर करना चाहता है तो अलग बात है…

हम कोई पार्टी में किराएदार थोड़ी हैं, हिस्सेदार हैं : मनीष तिवारी

 

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने गुरुवार को हम कांग्रेस पार्टी नहीं छोड़ेंगे लेकिन अगर कोई मुझे (धक्के देकर निकालना चाहे) पार्टी से बाहर करना चाहता है तो यह अलग बात है। जब उनसे पूछा गया कि आपके बारे में भी बड़ी अफवाहें उड़ रही हैं कि आप भी बीजेपी में जाएंगे। इसके जवाब में कांग्रेस नेता ने कहा, ‘हम कोई कांग्रेस पार्टी में किराएदार थोड़ी हैं, हम हिस्सेदार हैं। अगर कोई धक्के देके निकालना चाहे तो ये दूसरी बात है।  हमने 40 साल अपनी जिंदगी के इस पार्टी को दिए हैं।  

हमारे परिवार ने इस देश की एकता और अखंडता के लिए खून बहाया है। हम विचारात्मक सियासत में यकीन रखते हैं। मैंने ये बात पहले भी कई बार कहा है।बता दें कि पंजाब से पूर्व सांसद अश्विनी कुमार के इस्तीफे के बाद एक बार फिर से कांग्रेस पार्टी के अंदर आंतरिक कलह बढ़ गई है। पंजाब के नेताओं सहित जी 23 समूह ने चिंता जाहिर की है। वहीं मनीष तिवारी ने इसे बेहद दुख का विषय करार दिया था। तिवारी कांग्रेस पार्टी पर सवाल खड़ा करते हुए कहा था, ‘दुखद, हमारे बीच मत भिन्नता थी, लेकिन यह बहुत ही सभ्य तरीके से थी।  

दुर्भाग्यपूर्ण है कि अश्विनी कुमार को यह फैसला करने के लिए विवश होना पड़ा।उन्होंने कहा कि पूर्व केंद्रीय कानून मंत्री ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपने इस्तीफे में जो लिखा है उसमें कुछ सच्चाई हो सकती है और 2020 में जी23 नेताओं ने भी यही चिंता जताई थी। दरअसल अश्विनी कुमार ने कांग्रेस के साथ अपने दशकों पुराने संबंध को खत्म करते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। वहीं, पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि पार्टी से वरिष्ठ नेताओं का बाहर होनागंभीर चिंता का विषयहै।