नागरिकों से सुझाव लेने शीघ्र ही शुरू किया जाएगा एक पोर्टल…

देश के 13 एयरपोर्ट का नाम बदलने की तैयारी !

 

औरंगाबाद। देश में हवाई अड्डों, शहरों और ऐतिहासिक स्थानों के नाम बदलने की कवायद तेज होती जा रही है। अब मोदी सरकार देश के 13 के एय़रपोर्ट के नाम बदलने की तैयारी कर रही है। इस लिस्ट में महाराष्ट्र का औरंगाबाद शहर भी शामिल है। इससे एक दिन पहले ही बीजेपीशासित राज्य असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा था कि राज्य में तमाम जगहों के नाम बदले जाएंगे। इसके लिए जनता से सुझाव मांगे जाएंगे औऱ सुझावों के लिए एक पोर्टल भी बनाया जा रहा है। केंद्रीय मंत्री भगवत कराड ने गुरुवार को कहा कि औरंगाबाद एयरपोर्ट समेत देश के 13 हवाईअड्डों का नाम बदलने के लिए एक प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया है। मोदी कैबिनेट उस पर फैसला लेगी।

महाराष्ट्र के औरंगाबाद शहर में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री भगवत कराड ने कहा कि एयरपोर्ट का नाम बदलकर मराठा राजा छत्रपति संभाजी के नाम पर रखने का प्रस्ताव केंद्र को पहले ही भेजा गया था। कराड ने कहा कि यह अचानक लिया गया फैसला लिया है। यह एक नियमित प्रक्रिया के तौर देख रहा हूं। भारत में कम से कम 13 हवाईअड्डों का नाम बदला जाना है और कैबिनेट इन एयरपोर्ट के नए नामों के बारे में फैसला लेगी।  औरंगाबाद में एक संस्थान का डिजिटल मंच से उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि दिल्ली जाने वाले जनप्रतिनिधियों को हवाई अड्डे का नाम बदलने के मामले को देखना चाहिए और इसे बदलवाना चाहिए। मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक जैसे बीजेपीशासित राज्यों की तर्ज पर असम में भी कई जगहों के नाम बदलने का फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने एक दिन पहले ही ये कहा था। असम में नागरिकों से सुझाव लेने के लिए शीघ्र ही एक पोर्टल शुरू किया जाएगा।

इसमें असम के उन स्थानों के नाम बदलने के सुझाव मांगे जाएंगे जो कि प्रदेश की संस्कृति और सभ्यता को नहीं दर्शाते हैं। इससे पहले मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और कई अन्य बीजेपी शासन वाले राज्यों में कई बड़े स्टेशनों और शहरों के नाम बदले गए हैं। इनमें मध्य प्रदेश में हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर गोंड रानी कमलापति स्टेशन हो गया है। इससे पहले पातलपानी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर टंट्या मामा रेलवे स्टेशन किया गया था। यूपी में भी इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किया गया है। फैजाबाद जंक्शन स्टेशन का नाम बदलकर अयोध्या कैंट किया गया है। फैजाबाद जिले का नाम भी बदलकर अय़ोध्या कर दिया गया है। आगरा जैसे कई अन्य शहरों के नाम बदलने को लेकर मांग भी बीजेपी नेताओं की ओर से पेश की गई है।