अनदेखी पर कांग्रेसी विधायकों ने खोला मोर्चा…

सीएम शिवराज ने बुलाई बीजेपी विधायकों की बैठक

 

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बीजेपी विधायक दल की आज शाम बैठक बुलाई है। बताया जा रहा है कि बैठक शाम 7:00 बजे से होगी और इसमें आगामी बजट को लेकर बीजेपी विधायकों से सुझाव मांगे जाएंगे। बैठक में सिर्फ बीजेपी विधायकों को ही आमंत्रित किया गया है, इसको लेकर कांग्रेस विधायकों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर कांग्रेस विधायकों से भी सुझाव मांगे जाने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार विधायकों के बीच भेदभाव कर रही है।

कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को लिखे पत्र में लिखा है कि मध्यप्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते समय प्रदेश के विकास में बिना भेदभाव पक्षपात राग द्वेष के विधि द्वारा स्थापित नियमों के तहत कार्य करने का संकल्प लिया गया था, आप किसी पार्टी के मुख्यमंत्री होकर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं। पूरे प्रदेश में समान रूप से एवं आवश्यकता अनुरूप विकास कार्य कराया जाना आप के पद की गरिमा में निहित है।

आपके द्वारा भाजपा विधायकों से बजट सत्र के पहले विधानसभा क्षेत्र में विकास हेतु अन्य अत्यावश्यक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रस्ताव मांगे गए हैं, लेकिन कांग्रेस विधायकों से प्रस्ताव नहीं मांग कर भेदभाव और पक्षपात किया जा रहा है। अपने पत्र के माध्यम से कांग्रेस विधायक ने मांग की है कि विधि द्वारा स्थापित संविधान अनुरूप ली गई शपथ के अनुसार बिना किसी राग द्वेष के कांग्रेस विधायक से भी उनके क्षेत्र की जरूरत के हिसाब से प्रस्ताव मंगाए जाएं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह आज शाम 7:00 बजे विधायक दल की बैठक में आगामी बजट सत्र को लेकर बीजेपी विधायकों से उनके क्षेत्र विशेष की मांगों को लेकर चर्चा करेंगे।