दो पुलिसकर्मियों सहित तीन लोगों पर हत्या का केस दर्ज…

ग्रामीण और पुलिस के बीच हुई झड़प में बच्चे की मौत

शिवपुरी। ग्रामीण और पुलिस के बीच हुई झड़प में एक साल के बच्चे की मौत के बाद देर रात दो पुलिसकर्मियों सहित तीन लोगों पर हत्या का केस दर्ज कर लिया गया। विवाद के बाद सड़क पर बैठ कर प्रशासन के अधिकारियों और समाज के पंचों की पंचायत शुरू हुई। यह पंचायत आधी रात तक चलती रही, करीब 9 घंटे तक चली पंचायत के बाद प्रशासन ने आधी रात को परिजन के आरोप के आधार पर SI अजय मिश्रा और जगदीश रावत के साथ ग्रामीण मलखान को मासूम की हत्या का आरोपी मानते हुए केस दर्ज कर लिया। 

मंगलवार दोपहर पुलिया के पाइप का मुंह किसान के खेत और मकान की तरफ खोलने की बात पर जमकर बवाल हुआ था। प्रदर्शन के दौरान चक्काजाम, लाठीचार्ज, पथराव की घटना के बाद 1 साल के बच्चे की मौत की बात सामने आई थी। मामले में पीड़ित 33 साल के अशोक जाटव निवासी रामनगर गधाई गांव की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया है। उसने पुलिस को बताया, ‘मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे नायब तहसीलदार नरवर ने हमें बुलाया था, क्योंकि मेरे खेत में अवैध पुलिया निर्माण का काम चल रहा था। 

मेरे पक्ष रखने के बाद तहसीलदार ने करीब 15 पुलिस वालों को बुलाया, जिन्होंने हमारे परिवार, औरतों के साथ मारपीट की। अजय मिश्रा SI ने लाठी मेरी पत्नी वंदना को मार दी, मेरी पत्नी की गोद में मेरा बच्चा शिवा जाटव था, उसके सिर में लाठी लगी, जिससे उसकी माैत हाे गई। SI जगदीश रावत ने भी पत्नी और बच्चों के साथ मारपीट की। इन सब के साथ मलखान नाई निवासी गधाई भी था, उसने भी मारपीट को अंजाम दिया है। नायब तहसीलदार नरवर रुचि अग्रवाल की मौजूदगी में इस घटनाक्रम को अंजाम दिया गया।