BJP राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज…

विधानसभा चुनावों और सरकार की उपलब्धियों पर होगी चर्चा

राजधानी दिल्ली में आज बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होगी. बैठक पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा के चुनाव और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पिछले सात साल में केंद्र सरकार की उपलब्धियों पर केंद्रित होगी। बैठक स्थल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अब तक के कार्यकाल की उपलब्धियों को लेकर जहां प्रदर्शनी लगाई जा रही है, वहीं कोविड-प्रबंधन, रिकार्ड टीकाकरण और वैश्विक मंचों पर भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए उन्हें सम्मानित करने की भी योजना बनाई गई है। बैठक सुबह 10 बजे शुरु होगी और उसके बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा का संबोधन होगा।

बैठक का समापन दोपहर 3 बजे प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन से होगा। कोविड संबंधी नियमों को ध्यान में रखते हुए एनडीएमसी कनवेंशन सेंटर में कार्यकारिणी के 124 सदस्य उपस्थित रहेंगे। इनमें प्रधानमंत्री और राष्ट्रीय अध्यक्ष के अलावा सभी केंद्रीय मंत्री, राज्यसभा में पार्टी के नेता पीयूष गोयल और कार्यसमिति के अन्य सदस्य शामिल हैं। 36 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में प्रदेश अध्यक्षों के नेतृत्व में राज्य इकाइयां डिजिटल माध्यम से कार्यकारिणी की बैठक से जुड़ेंगी। इस बैठक में एक राजनीतिक प्रस्ताव भी पारित किया जाएगा।

साथ ही, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर, गोवा और पंजाब के विधानसभा चुनावों की तैयारी पर विशेष चर्चा होगी और मंथन होगा। इसके अलावा पार्टी के आगामी कार्यक्रमों को लेकर भी चर्चा होगी। कोविड-19 से जिन नेताओं व लोगों की असमय मौत हुई है, उन्हें श्रद्धांजलि देने के साथ ही एक शोक प्रस्ताव भी पारित होगा। कार्यकारिणी में एक प्रदर्शनी भी लगाई गई है, जिसमें आत्मनिर्भर भारत के बारे में प्रधानमंत्री के संकल्प, गरीब कल्याण योजनाओं से आम गरीब को मिल रही मदद, महिलाओं के बैंक खातों में पैसों का हस्तांतरण, सहित समाज के सभी वर्गों के लिए किए गए कार्यों का उल्लेख होगा। 

प्रदर्शनी में कोविड काल के दौरान पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा कोविड-19 के खिलाफ चलाए गए ‘‘सेवा ही संगठन’’ अभियान को विशेष रूप में रेखांकित किया जाएगा। साथ ही टीकाकरण अभियान में सौ करोड़ से ऊपर का आंकड़ा पार किए जाने का भी उल्लेख होगा। उल्लेखनीय है कि हाल ही में कुछ राज्यों में हुए उपचुनाव के परिणाम से बीजेपी को लगे झटके के बीच यह बैठक हो रही है। इन चुनावों में पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश और राजस्थान में पार्टी का सूपड़ा साफ हो गया था। पिछले साल कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद पहली बार यह बैठक सभी की उपस्थिति में होने जा रही है।