गश्त करते हुए सेना के जवानों के कदम रखने से…

LOC के पास लैंडमाइन विस्फोट में 2 सैनिक शहीद, तीन जख्मी

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के नौशेरा-सुंदरबनी सेक्टर में एलओसी के पास शनिवार को लैंडमाइन विस्फोट में दो जवान शहीद हो गए, जबकि तीन अन्य घायल हुए हैं। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक एलओसी के पास लगी लैंडमाइन पर गश्त करते हुए सेना के जवानों के कदम रखने से धमाका हुआ, जिसमें एक ऑफिसर और एक सैनिक शहीद हो गए। सूचना मिलते ही अन्य सैनिक मौके पर पहुंचे और घायलों को आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया। जिनमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दो की मौत हुई है, जबकि तीन घायल हुए हैं।

 जम्मू क्षेत्र क्षेत्र के एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया, "नौशेरा सेक्टर में एरिया में पैट्रोलिंग के दौरान एक माइन विस्फोट हुआ, जिसमें भारतीय सेना के दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए और बाद में उनकी मौत हो गई। घायल हुए अन्यों सैनिक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। प्रवक्ता ने बताया कि लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार और सिपाही मंजीत बहादुर काफी बहादुर व कर्मठ थे, जिन्होंने देश के लिए बलिदान दिया है। देश और भारतीय सेना दोनों बहादुर जवानों के सर्वोच्च बलिदान के लिए हमेशा ऋणी रहेगी। 

लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार बिहार के बेगूसराय के निवासी थे, जबकि सिपाही मंजीत सिंह सिरवेवाला, भटिंडा, पंजाब के रहने वाले थे। बता दें कि कुछ दिनों पहले आतंकी हमले में दो अफसरों समेत नौ सैनिक शहीद हो गए थे। माना जा रहा है कि आतंकी पुंछ के जंगलों में छिपे हुए हैं। जिसके चलते पिछले तीन सप्ताह से नौशेरा सेक्टर में सेना का अभियान चल रहा है। नौशेरा सेक्टर राजौरी जिले के अंतर्गत आता है, जो जम्मू में पीरपंजाल क्षेत्र का हिस्सा है। यह पिछले 18 वर्षों में इस क्षेत्र में सबसे लंबा आतंकवाद विरोधी अभियान है।