दिग्विजय के बयान पर मप्र सरकार एक्शन मोड में…

दिग्विजय सिंह के सरस्वती शिशु मंदिर पर बयान की जांच के बाद होगी कार्रवाई : गृह मंत्री

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के सरस्वती शिशु मंदिर पर दिए गए मामले पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। दिग्विजय के बयान पर अब मप्र सरकार एक्शन मोड में आ गई है। गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने एनसीपीसीआर के पत्र को लेकर रहा है कि इस पूरे मामले का परीक्षण कराया जाएगा, और रिपोर्ट के आधार पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। दूसरी ओर सरस्वती शिशु मंदिर के लोग विवादित बयान को लेकर राजधानी के जहांगीराबाद थाने में एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी कर चुके हैं। 

वहीं इस पूरे मामले को लेकर कांग्रेस ने साफ कर दिया है कि दिग्विजय सिंह के पास पूरे प्रमाण हैं। वह बिना किसी प्रमाण के कुछ नहीं बोलते हैं। सिंह के इस बयान के बाद मध्य प्रदेश ही नहीं बल्कि देशभर में सियासी पारा चढ़ा हुआ है गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि दिग्विजयसिंह ने संवैधानिक मर्यादाओं का ध्यान नहीं रखा है, जबकि वह खुद 10 साल तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं। कांग्रेस प्रवक्ता फिरोज सिद्दीकी ने कहा कि, मैं राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग  से सवाल करना चाहता हूं कि अब तक आयोग कहां था। 

सड़कों पर बच्चे भीख मांग रहे हैं,मध्यप्रदेश में बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं इस पर बाल आयोग ने कोई एक्शन नहीं लिया है। बाल आयोग बताए कि बच्चों के हितों के लिए क्या काम किए हैं। दिग्विजय सिंह के मामले में संज्ञान लिए जाने पर कांग्रेस प्रवक्ता सिद्दीकी ने कहा कि असल में दिक्कत है कि भाजपा के मंत्री- संत्री सब कार्यकर्ता बन जाते हैं।