कम होगा पेंडिंग केस का बोझ…

सुप्रीम कोर्ट में आज पहली बार एक साथ 9 जजों ने ली शपथ


नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में आज 9 नए जजों ने पदभार संभाल लिया है. चीफ जस्टिस एनवी रमना ने आज सुबह सभी को पद की शपथ दिलाई. जो 9 लोग आज सुप्रीम कोर्ट जज बने हैं, उनमें से 8 हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस या जज हैं. उनके अलावा एक वरिष्ठ वकील भी सीधे सुप्रीम कोर्ट जज नियुक्त हुए हैं. आमतौर पर चीफ जस्टिस के कोर्ट रूम में होने वाला यह कार्यक्रम इस बार कुछ अलग था. नए जजों का शपथ ग्रहण कार्यक्रम सुप्रीम कोर्ट के नए भवन में बने सभागार में हुआ. इस ऑडिटोरियम में 900 लोगों के बैठने की व्यवस्था है. साथ ही पहली बार जजों के शपथ ग्रहण कार्यक्रम का दूरदर्शन पर सीधा प्रसारण भी किया गया.

जस्टिस ए एस ओका

जस्टिस विक्रम नाथ

जस्टिस जे के माहेश्वरी

जस्टिस हिमा कोहली

जस्टिस बी वी नागरत्ना

जस्टिस बेला त्रिवेदी

जस्टिस सी टी रविंद्रकुमार

जस्टिस एम एम सुंदरेश

और वरिष्ठ वकील पी एस नरसिम्हा.

इन जजों में से भविष्य में जस्टिस विक्रम नाथ, जस्टिस बी वी नागरत्ना और पी एस नरसिम्हा भारत के मुख्य न्यायाधीश बनने की संभावना हैं. अब तक सुप्रीम कोर्ट में कोई भी महिला चीफ जस्टिस नहीं हुई है. सितंबर 2027 में जस्टिस नागरत्ना के रूप में भारत को पहली महिला चीफ जस्टिस मिल सकती है. सुप्रीम कोर्ट में करीब 2 साल बाद हुई नई नियुक्तियों के बाद जजों के कुल 34 पदों में से 33 इन नियुक्तियों के बाद भर गए हैं.