पंजशीर में भीषण लड़ाई की खबर…

जिला प्रमुख सहित 50 तालिबानी ढेर, 20 को बंदी बनाया

अफगानिस्तान। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर 15 अगस्त को कब्जा करने वाला तालिबान अब देश में नई सरकार बनाने की तैयारी में है लेकिन उसे कई जगहों पर प्रतिरोध बलों से करारा जवाब मिल रहा है। कई जिलों में प्रतिरोध बलों से तालिबान को कड़ी टक्कर मिल रही है। अफगानिस्तान के बगलान प्रांत के अंद्राब में तालिबानी लड़ाकों के साथ संघर्ष जारी है। ऐसे में बानू जिले में प्रतिरोध बलों ने तालिबान के जिला प्रमुख सहित 50 तालिबानियों को ढेर कर दिया गया है। इतना ही नहीं, करीब 20 तालिबानी लड़ाकों को बंदी भी बना लिया गया है। 

पंजशीर प्रोविनेंस ने ट्वीट कर बताया है कि तालिबान का बानू जिला प्रमुख मारा गया है। उसके तीन साथी भी ढेर कर दिए गए। पंजशीर प्रोविनेंस ट्वीट में आगे बताया कि अंद्राब के विभिन्न इलाकों में लगातार दोनों गुटों के बीच टकराव चल रहा है। फज्र इलाके में 50 तालिबानियों को मारा गया और 20 अन्य को बंदी बना लिया गया है। हालांकि, इस दौरान प्रतिरोध बल का 1 सदस्य मारा गया और छह अन्य घायल हो गए। इससे पहले सोमवार को ही पंजशीर में भीषण लड़ाई की खबरें आईं। तालिबान ने पंजशीर को घेरने के लिए दस हजार लड़ाके भेजे हैं। 

अहमद मसूद की सेना नॉर्दन अलायंस ने दावा किया है कि उन्होंने 300 तालिबानियों को मार गिराया है। ये इलाका अब तक तालिबान से अछूता रहा है लेकिन अब तालिबान इस इलाके पर कब्जा करना चाहता है। हालांकि, पंजशीर के शेर कहे जाने वाले अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद तालिबान के रास्ते पर चट्टान बनकर खड़े हैं। अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह और बल्ख प्रांत के पूर्व गवर्नर की सैन्य टुकड़ी भी अहमद मसूद के साथ है। अमरुल्लाह सालेह ने तालिबान को देख लेने की धमकी दी है।